Friday, September 29, 2017

मुम्बई हादसे का जिम्मेदार कौन

मुंबईः मुंबई के वेस्टर्नव लाइन पर स्थित एलफिंसटन रेलवे ब्रिज पर मची भगदड़ में अब तक 19 लोगों की मौत हो गई है वहीं 30 लोग इस हादसे में जख्मी हुए हैं. ये घटना सुबह करीब 9.30 बजे घटी. ब्रिज टूटने की अफवाह के कारण ये भगदड़ मची और जिस वक्त से भगदड़ हई उस वक्त बारिश हो रही थी और फिसलन के कारण इतना बड़ा हादसा हो गया. एलफिंसटन ब्रिज सेंट्रल और वेस्टर्न लाइन को जोड़ता है लिहाजा इस पर काफी भीड़ रहती है.

मौका-ए-वारदात पर मौजूद एक चश्मदीद के मुताबिक सबसे पहले एक शख्स फिसल कर नीचे आया फिर लोग एक के ऊपर एक चढ़ते गए. 16 लोगों की मौत हुई है बाकि कोई गिनती ही नहीं है कई लोग घायल पड़े हुए हैं. कोई अफवाह नहीं हुआ ये हादसा. सहां सीढ़िया इतनी गंदी पड़ी हुई है ये साफ तौर पर सरकार की गलती है. बारिश के पानी और गंदगी से हुए फिसलन के कारण ये हादसा हुआ है.
चश्मदीद ने आगे बताया कि लगभग 150 लोग ब्रिज पर हादसे के वक्त मौजूद थे. टिकट काउंटर से लेकर लोग सीढ़ियों तक भरे थे. लोग एक के ऊपर एक गिर गए. हमने निकालने की कोशिश की तो लोग इस कदर दब चुके थे कि निकल नहीं पा रहे थे. एक बच्चा भी भगदड़ में दब गया. ये सरकार की जिम्मेदारी है की सीढ़िया साफ हो और नई बनाई जाएं. यहां फिसलन बहुत ज्यादा होती है और भीड़ को देखते हुए पुल को और बढ़ाया जाए. जो भी हुआ है वो ब्रिज के कारण हुआ है. शॉर्ट सर्किट या कोई अफवाह के कारण नहीं हुआ है.
पुलिस ने क्या कहा?
पुलिस के मुताबिक अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है और 30 से ज्यादा लोग घायल हैं. दरअसल ब्रिज के टूटने की अफवाह फैली और ये सुनते ही लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे. अफरातफरी के आलम में लोग एक दूसरे पर चढ़ गए, कूदने लगे. लोगों के कूदने और भागने से लोगों की दब कर मौत हो गई साथ ही कई गंभीर रुप से जख्मी हो गए. इ
दरअसल, जहां हादसा हुआ है वहां बारिश हो रही थी, पिक आवर भी था त्यौहारों के सीजन के कारण काफी भीड़ थी. बड़ी संख्या में लोग इस फूटओवर ब्रिज पर रुक गए और जमा होते गए, तभी ब्रिज की एक शेड के एक टुकड़ा गिरने की अफवाह फैली ऐसी अफरातफरी मची की कयामत जैसा समा हो गया. जान बचाने की इस दौड़ कई जानें हमेशा के लिए नींद से सो गई.
R.g.

No comments:

Post a Comment