Wednesday, October 25, 2017

594 को मिला कौशल लेकिन रोजगार मिशन अधूरा

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
कन्नौज : सरकार ने कौशल विकास मिशन के तहत शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों को विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षित कर रोजगार मुहैया कराने की योजना शुरू की। जिले में इसका जमकर प्रचार-प्रसार किया गया। बीते वर्ष 594 को प्रशिक्षण मिला लेकिन अभी तक रोजगार पाने के लिए कई युवा भटक रहे हैं। इससे कौशल होने के बाद भी मिशन अधूरा दिख रहा है। हालांकि अफसर जल्द काम मिलने का दावा कर रहे हैं।
प्रधानमंत्री कौशल विकास मिशन के तहत बेरोजगार युवाओं को कंप्यूटर शिक्षा, फैशन डिजाइनर, सिलाई-कढ़ाई, हेयर क¨टग समेत 36 ट्रेडों पर प्रशिक्षित किया जा रहा है। वर्ष 2016-17 में 594 शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया। इनको प्रशिक्षित करने के लिए 11 बैच बनाए गए। बाहर से आए मास्टर ट्रेनरों ने प्रशिक्षण दिया। वर्ष बीत जाने के बाद भी ज्यादातर शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों को रोजगार मुहैया नहीं हुआ है। 194 को परीक्षा दिलाई गई। नौकरी के लिए 82 का चयन हुआ पर अभी तक रोजगार उपलब्ध नहीं हो सका है। वित्तीय वर्ष 2017-18 में कौशल विकास मिशन के तहत 1448 बेरोजगार युवक-युवतियों को प्रशिक्षण देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसमें अल्पसंख्यक वर्ग के 66, अनुसूचित जाति वर्ग के 498 व अन्य वर्ग के 884 छात्र-छात्राओं को प्रशिक्षित किया जाएगा। इसमें बीपीएल व महिलाओं को वरीयता दी जाती है।
जिम्मेदार बोले
बीते वर्ष 594 बेरोजगार युवक-युवतियों को प्रशिक्षित कर दिया गया है। इसमें 194 की परीक्षा हुई थी। 82 को चयनित किया गया है। इनको रोजगार उपलब्ध कराने के लिए कार्रवाई की जा रही है। जल्द रोजगार मिल जाएगा।
-मुकेश कुमार, मैनेजर (एमआईएस) कौशल विकास मिशन।

No comments:

Post a Comment