Saturday, October 14, 2017

जय शिवसेना ने प्रेस कांफ्रेंस कर खोला रोहिंग्या के खिलाफ मोर्चा

राजनगर में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया जिसमें जयशिवसेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित आर्यन ने रोहिंग्या मुस्लिमों के विषय में पत्रकारों से चर्चा की- उन्होंने बताया कि जिस प्रकार रोहिंगिया को लेकर कुछ दल वह कुछ राजनीतिक बड़े चेहरे व अब सुप्रीम कोर्ट इन्हे  मानवता की दृष्टि से देखने के लिए भारत की जनता को मना रहे हैं वो ये भूल गए हैं कि रोहिंग्या मुस्लिम म्यांमार में हिंसा करने के बाद व हजारों हिंदुओं की निर्मम हत्या के जिम्मेदार है ये वह कौम है जो अति शांतिप्रिय बौद्ध भिक्षुओं के साथ भी रह नहीं पाए और हम इस प्रेस वार्ता के माध्यम से यह जानकारी देना चाहते हैं कि मायांमार की जनता ने इनके खिलाफ तब हथियार उठाए जब इन रोहिंग्या मुसलमानों ने हिंदुओं व शांतिप्रिय बौद्ध भिक्षु को बिना मतलब उनकी हत्या करना शुरू कर दिया उनकी महिलाओं के साथ बलात्कार करना शुरू कर दिया बाद में म्यानमार सरकार ने इन मुस्लिमों के खिलाफ कार्रवाई की ऐसे में भारत में रहने वाले कुछ राजनीतिक दल वह कुछ आतंकी संगठनों के समर्थक इन रोहिंग्या को मानवता की दृष्टि से देखने का आग्रह कर रहे हैं प्रेस वार्ता में राष्ट्रीय चिंतक विनोद सर्वोदय ने कहा कि रोहिंग्या मुस्लिम ISIS हिजबुल मुजाहिदीन व अन्य आतंकी संगठनों से जुड़े हुए हैं पाकिस्तान से आतंक फैलाने के लिए इन्हें पूरी तरह से सहायता मिल रही है ऐसे में भारत को या भारत की न्यायपालिका को इन्हें मानवता की दृष्टि से देखना देश को आतंक के रास्ते पर ले जाने जैसा है| सर्वोदय जी ने बताया की म्यांमार में शांतिप्रिय बौद्ध भिक्षु अशीन विराथु ने इनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए यह कहा कि ये रोहिंग्या मुस्लिम नरभक्षी व जिहादी कानून को मानने वाले हैं ये पूरी तरीके से पागलों की कौम है सर्वोदय जी ने सरकार व न्यायपालिका से आग्रह किया कि इन रोहिंग्या मुसलमानों पर तुरंत कड़ी कार्रवाई की जाए व इन्हें देश से खदेड़ कर भगाया जाए| वार्ता में  हिंदू विचारक डॉ हरपाल सिंह ने कहा भारत पहले से ही अवैध तरीके से रह रहे बांग्लादेशियों से परेशान है जो लगातार आतंकी घटनाओं से जुड़े हैं लखनऊ बिहार मुंबई वह अन्य राज्यों में आतंकी हमलों में बांग्लादेशी मुसलमानों का हाथ पाया गया है अब ऊपर से जो पूरी तरीके से आतंकी संगठनों के संरक्षण में पल रहे रोहिंग्या मुसलमानों को देश में शरण देना यह भारत के लिए आने वाले समय में संकट का कारण बन गए हैं इन्हें मानवता की दृष्टि से देखना भारत के लिए खतरनाक साबित होगा व भारत गृह युद्ध की स्थिति में पहुंच जाएगा| प्रेस वार्ता मे सोशल अवेयरनेस सोसाइटी के  अध्यक्ष  व वरिष्ठ भाजपा नेता विनीत शर्मा जी ने कहा कि वैसे ही भारत में बेरोजगारी वह बढ़ती जनसंख्या के कारण सुविधाओं की कमी से हम जूझ रहे हैं ऊपर से बांग्लादेशी, रोहिंग्याअवैध तरीके से भारत में घुस रहे हैं ऐसी स्थिति में हमारे देश के युवाओं का भविष्य खतरे में पड़ गया है आखिर क्या कारण है कि यह रोहिंग्या अवैध बांग्लादेशी मुस्लिम केवल भारत में ही अवैध तरीके से घुसपैठ कर रहे हैं जबकि बांग्लादेश, पाकिस्तान, चीन, नेपाल, भारत से अधिक इनके समीप है ये केवल भारत में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए भारत में प्रवेश कर रहे हैं सरकार पूरे तरीके से इनका विरोध कर रही है न्यायपालिका को भी इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश देना चाहिए|  वार्ता के अंत में अमित आर्यन ने जयशिवसेना की तरफ से यह चेतावनी दी कि कोई भी दल या न्यायपालिका इनके खिलाफ इनके प्रति यदि मानवता दिखाएंगे तो ऐसे में हमें मजबूरी में म्यानमार  के बौद्ध भिक्षु के जैसी कार्रवाई करनी पड़ेगी|  प्रेस वार्ता में जयशिवसेना के महासचिव ललित चौधरी उपस्थित रहे साथ में कैलाशशरण जी व अन्य साथी भी उपस्थित रहे|

भवदीय
ललित चौधरी
राष्ट्रीय महासचिव
जयशिवसेना

No comments:

Post a Comment