Monday, October 16, 2017

त्योहारी सीजन में सट्टा बाजार गर्म बर्बाद होते युवा

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
कन्नौज / जिले के विभिन्न क्षेत्रों में सट्टा बाजार फिर त्योहार से पहले शुरू हो गया है। इससे सैकड़ों युवा बर्बादी की जद में हैं। कर्ज लेकर युवा सट्टा खेल रहे हैं। इसके बाद तनाव में आकर जिदगी खत्म कर लेते हैं। ऐसी स्थिति नगरीय क्षेत्रों से ग्रामीण इलाकों तक देखने को मिल रहा है। इसमें महिलाएं भी जुड़ गई हैं।
कन्नौज के मकरंदनगर सरायमीरा तिर्वा जलालाबाद  छिबरामऊ से लेकर अन्य ग्रामीण क्षेत्र के कई गांव में सट्टा कारोबार ने पांव पसार लिए हैं। इनमें अंकों के हिसाब से रुपये लगाकर युवा फंस रहे हैं। एक नंबर पर 80 या 85 रुपये से लेकर हजारों तक का खेल होता है। लालच में आकर हजारों रुपये के नंबर लगा मेहनत की कमाई उड़ाई जा रही है। दीपावली के ऐन पहले सट्टा बाजार तेजी से गुलजार हो गया है। जानकारों के अनुसार इस धंधे में जुड़े लोगों को कमीशन दिया जाता है। एक अच्छी खासी रकम होती है। इस अवैध कारोबार से जुड़े लोग पर्ची पर नंबर लिखकर देते हैं। अगले दिन नंबर ठीक होने पर रकम मिलती है। बगैर मेहनत मोटी रकम आसानी से प्राप्त होने के लालच में बच्चों सहित युवा बुजुर्ग और महिलाएं सटोरियों के जाल में उलझ गए हैं। इन अवैध कारोबारियों की जड़ें बहुत गहरी हैं।

No comments:

Post a Comment