Wednesday, October 25, 2017

कन्नौज में निकाय चुनाव की गर्मी तेज

कन्नौज : निकाय चुनाव की सरगर्मी अब दिखने लगी है। मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी में सर्किट हाउस से लेकर जिला कार्यालय तक गहमागहमी दिखाई पड़ी। राज्यमंत्री, भाजयुमो अध्यक्ष से लेकर विधायक व नेताओं में तगड़ा मंथन का दौर चला। दावेदारों की ताकत परखने के साथ मिशन 146 पर भी कड़ी निगाह डाली गई। एक-एक ¨बदु पर बारीकी से चर्चा हुई।
निकाय चुनाव की अधिसूचना जारी होने से पहले सत्तारूढ़ भाजपा सपा के गढ़ में हर दांव आजमाने की तैयारी में है। मंगलवार दोपहर प्रदेश की खनन, आबकारी व मद्य निषेध राज्यमंत्री अर्चना पांडेय, भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष सुब्रत पाठक के साथ विधायकों, पूर्व विधायकों ने सर्किट हाउस में करीब ढाई घंटे तक सियासी समीकरणों पर मंथन किया। इस दौरान नगर पालिका परिषद व पंचायतों में अध्यक्ष पदों से लेकर वार्ड स्तर तक की रणनीति देखी गई। इसमें 146 वार्डों, तीन नगर पालिका परिषद गुरसहायगंज, कन्नौज सदर व छिबरामऊ, नगर पंचायत की पांच सीटों समधन, तालग्राम, सौरिख, सिकंदपुर व तिर्वागंज को लेकर मंथन हुआ। यहां से अब तक आए आवेदनों पर चर्चा की गई। इसके साथ जिला कार्यालय में जिलाध्यक्ष नरेंद्र राजपूत के निर्देश के लिहाज से कई दावेदारों ने अपने-अपने आवेदन भी जमा कराए। इससे गहमागहमी रही।
अविश्वास प्रस्ताव को लेकर भी चर्चा गर्म
सर्किट हाउस में मंत्री के साथ बड़े नेताओं व जिले के चु¨नदा भाजपा पदाधिकारियों के साथ घंटों चली बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष व सदर ब्लाक प्रमुख पद के लिए लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा होने की बात भी सियासी गलियारों में गर्म रही। सपा से लेकर भाजपा के नेताओं व कार्यकर्ताओं के बीच इस बैठक के सियासी निहितार्थ तलाशे गए। इसके पीछे वजह मीडिया कर्मियों को इस बैठक से दूर रखना रहा। सूत्र बताते हैं कि मीडिया के साथ तमाम कार्यकर्ताओं को भी इस बैठक की भनक न लगने के पूरे इंतजाम किए गए। गौरतलब है कि मौजूदा जिला पंचायत अध्यक्ष शिल्पी कटियार व कन्नौज सदर ब्लाक प्रमुख नीलू यादव के खिलाफ क्रमश: भाजपा के जिला पंचायत सदस्य महेश शास्त्री व बीडीसी सदस्य आशीष कुमार ने अविश्वास प्रस्ताव के हलफनामे चार अक्टूबर को डीएम को सौंपे थे।

No comments:

Post a Comment