Monday, November 20, 2017

कन्नौज में निजी समारोह में अखिलेश यादव का आगमन

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति

कन्नौज : समाजवादी गढ़ के आठ निकाय क्षेत्रों में अपना दबदबा बरकरार रखने को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नई तरकीब निकाली है। वह चुनावी रैली न कर यहां शादी व अन्य निजी समारोहों में शामिल होकर कार्यकर्ताओं व दिग्गजों की नब्ज टटोलकर सीख देंगे। उनके दो दिन यहां रहने की चर्चा तेज है।
समाजवादी पुरोधा डॉ. राम मनोहर लोहिया की कर्मभूमि पर पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम ¨सह यादव का लगाया पौधा उनके बेटे पूर्व मुख्यमंत्री व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बखूबी सींचा है। वर्तमान में उनकी सांसद पत्नी ¨डपल यादव के संसदीय क्षेत्र में अभी तक समाजवादी जड़ें गहरी हैं। यहां भाजपा की विधानसभा चुनाव में बड़ी लहर के बाद भी कन्नौज सदर सीट पार्टी बचाने में कामयाब रही थी। अब निकाय चुनाव के दौरान जिले में कन्नौज सदर, गुरसहायगंज व छिबरामऊ नगर पालिका के साथ नगर पंचायत तिर्वागंज, समधन, तालग्राम, सिकंदरपुर व सौरिख में पार्टी ने अपने उम्मीदवार उतारे हैं। इनको मजबूती देने को यूं तो सपा का कोई बड़ा नेता अभी तक जिले में नहीं आया है लेकिन अब 22 व 23 नवंबर को अलग-अलग निजी मांगलिक समारोह में शामिल होने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के पहुंचने की संभावनाएं हैं। यह कार्यक्रम कन्नौज सदर क्षेत्र के मकरंद नगर, सौरिख व तिर्वा स्थित राजकीय मेडिकल कालेज कन्नौज में होने हैं। कार्यक्रमों में उनके आने की स्वीकृति मिलने की चर्चाएं तेज हैं। वहीं, सपा जिलाध्यक्ष मजहरुल हक मुन्ना दरोगा ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री का जिले से गहरा नाता है। वह कार्यकर्ताओं के हर सुख-दुख में खड़े होते हैं। अभी तक उनके आने की कोई अधिकृत सूचना नहीं है लेकिन वह कभी भी यहां आ जाते हैं।

No comments:

Post a Comment