Saturday, November 4, 2017

राइसमिल सील व के लोगोँ से हुई पूछताछ

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति।

सौरिख  : राइस मिल में सरकारी गेहूं व चावल मिलने के बाद अधिकारी देर रात तक कार्रवाई में लगे रहे। राइस मिल व बेयर हाउस को सील कर दिया गया। वहीं, मौके पर मिले एसएमआई व कोटेदार को अफसरों के निर्देश पर पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। देर शाम डिप्टी आरएमओ की तहरीर पर पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ मामले की रिपोर्ट दर्ज की है।
प्रिया राइस मिल में मिले सरकारी खाद्यान्न की जब जांच शुरू की गई तो उसके तार बेयर हाउस से जुड़े मिले। इस पर देर रात अधिकारियों ने एसएमआई को हिरासत में ले लिया। वहीं, पूर्ति विभाग की टीम ने खाद्यान्न के पैकेटों की गिनती कराई। एक हजार पैकेट के करीब गेहूं व चावल सरकारी वारदानें में मिलने की पुष्टि की गई। इसके बाद उच्चाधिकारियों के निर्देश पर राइस मिल व बेयर हाउस गोदाम को सील कर दिया गया। मौके पर मिले एक कोटेदार को भी पुलिस थाने ले गई। उक्त दोनों लोग गुरुवार को भी थाने में बैठे रहे। डिप्टी आरएमओ की ओर से जिलाधिकारी की संस्तुति पर लिपिक मुकदमा दर्ज कराने के लिए तहरीर लेकर पहुंचा। इसके बाद चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। थानाध्यक्ष आरपी पांडेय ने बताया कि डिप्टी आरएमओ की तहरीर पर पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ मामले की रिपोर्ट दर्ज की है। नामजद आरोपी की धरपकड़ को लेकर उन्होंने नाम बताने से इन्कार कर दिया। वहीं एसएमआई को हिरासत में लिए जाने की जानकारी पाकर उनके परिजन थाने पहुंच गए। वह लोग गुरुवार को पूरे दिन वहां डटे रहे।
कपड़े का इंतजाम भी नहीं कर सकी पुलिस
सरकारी राशन की पुष्टि होने के बाद जब राइस मिल व बेयर हाउस को सील किया गया तो पुलिस के पास इसके लिए कोई इंतजाम नहीं था। काफी देर तक इसको लाने की बात कही जाती रही। इसके बाद नए ताले डालकर बिना कपड़े से सील किए ही उन्हें छोड़ दिया गया।
कोटेदार के यहां एडीएम व एएसपी का छापा
राइस मिल में सरकारी राशन पकड़े जाने के बाद जांच की कार्रवाई तेज कर दी गई है। गुरुवार को अपर जिलाधिकारी व अपर पुलिस अधीक्षक ने राइस मिल से कुछ दूरी पर स्थित सौरिख देहात के राशन कोटे पर छापा मार कार्रवाई की। यहां स्टाक को चेक किया गया तो सब कुछ सही पाया गया। दुकान की स्थिति को लेकर जब उससे अनुमति मांगी गई तो वह नहीं दिखाई गई।एडीएम ने कोटेदार को अनुमति पत्र उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए थे।

No comments:

Post a Comment