Wednesday, November 29, 2017

मजदूरों पर गोली चलवाने वाले पुलिस अधिकारी की सजा के दौरान मौत

अबोहर: वर्ष 1997 में अपने हकों के लिए प्रदर्शन करने वाले मजदूरों पर गोली चलाने वाले उम्र कैद की सजा काट रहे पंजाब पुलिस के पूर्व ASI नरेंद्र पाल सिंह की परसों देर रात बठिंडा केंद्रीय जेल में हार्ट अटैक से मौत हो गई कल पोस्टमार्टम के बाद उसका शव परिजनों को सौंप दिया गया जानकारी मुताबिक नरेंद्र पाल सिंह निवासी बठिंडा ने  बतौर ASI रहते अबोहर में वर्ष 1997 में ASI जगजीत सिंह व एक अन्य ASI के साथ मिलकर भवानी कॉटन मिल में प्रदर्शन कर रहे मजदूरों पर उस समय के तहसीलदार राम सिंह के आदेशों पर मजदूरों पर फायरिंग कर दी थी जिससे आठ मजदूरों की मौत हो गई थी पूरे घटनाक्रम के बाद अबोहर पुलिस ने नरेंद्र व दो अन्य एएसआई के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था काफी वर्ष मामला के चलने के बाद अदालत ने दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी कुछ समय बाद नरेंद्र पाल सिंह बठिंडा जेल में शिफ्ट हो गया था बठिंडा जेल अधीक्षक ने बताया कि नरेंद्र जब रिटायर हो गए थे तब उन्हें उम्रकैद की सजा हुई और वह दिल की बीमारी के मरीज थे  रात उन्हें हृदयघात हुआ जिससे पूर्व एएसआई की मौत हो गयी

No comments:

Post a Comment