Wednesday, November 1, 2017

कन्नौज के तिर्रवा मेडिकल कालेज में बवाल

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति।

मेडिकल कालेज में सोमवार रात करीब 10 बजे रैगिंग की शिकायत करने से गुस्साए सीनियर मेडिकल छात्रों ने जूनियर छात्रों पर हमला कर दिया। हास्टल के दरवाजे और खिड़की तोड़कर छात्रों को जमकर पीटा, जिससे दर्जनभर से ज्यादा छात्र घायल हो गए। सीनियर छात्रों के हमले में चार गार्ड भी घायल हुए हैं। बवाल शांत करने पहुंचे प्राचार्य और सीएमएस पर भी पथराव किया। बवाल की जानकारी पर डीएम, एएसपी कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और किसी तरह हालात को काबू किया। देर रात तक सीनियर छात्रों और प्रशासन के बीच वार्ता चलती रही।
तिर्वा मेडिकल कालेज में सत्र 2017 में 50 छात्रों ने एडमिशन लिया है। आरोप है कि वर्ष 2013 से 2016 तक के सीनियर छात्र इनकी रैगिंग करते थे। जूनियर छात्रों ने कालेज प्रबंधन से शिकायत की, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। रविवार को फिर रैगिंग होने पर जूनियर छात्रों ने सोमवार सुबह हास्टल वार्डेन डा. आईएन अंसारी से शिकायत की। इस पर वार्डेन ने जूनियर छात्रों के सामने ही सीनियर छात्रों को फटकार लगाई और अनुशासनात्मक कार्रवाई व रिपोर्ट दर्ज कराने की चेतावनी दी। इससे गुस्साए सीनियर छात्र रात करीब 10 बजे जनियर छात्रों के हास्टल पर हमला बोल दिए।

इस वक्त हास्टल में 35 छात्र मौजूद थे, जबकि 15 अवकाश पर थे। करीब दो से ढाई सौ की संख्या में पहुंचे सीनियर छात्रों ने दरवाजे और खिड़की तोड़कर जूनियरों को बाहर निकाला और जमकर पीटा। हास्टल पर पथराव भी किया। हास्टल वार्डेन की सूचना पर मौके पर पहुंचे प्राचार्य डा. सीएस मारतोलिया और सीएमएस डा. दिलीप सिंह ने समझाने की कोशिश की। इस पर सीनियरों ने इन पर भी पथराव कर दिया। कार्यालय के शीशे तोड़ दिए। किसी तरह प्राचार्य और सीएमएस ने खुद को बचाया। घटना की सूचना मिलने पर डीएम जगदीश प्रसाद, एएसपी केशव चंद गोस्वामी कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। इन्होंने समझा बुझाकर छात्रों को शांत कराया।

मारपीट में घायल जूनियर छात्र कानपुर के बिरहाना निवाली शिवाय गुप्ता, विकास दिवाकर, गार्ड सुधीर कुमार, समरजीत, कप्तान और नरेंद्र को मेडिकल कालेज में ही भर्ती कराया। डीएम और अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में सीनियर छात्रों से वार्ता शुरू हुई। खबर लिखे जाने तक छात्रों से बातचीत चलती रही। एएसपी केशव चंद्र गोस्वामी ने बताया कि फिलहाल मामला शांत करा दिया गया है। वार्ता चल रही है जो निर्णय लिया जाएगा उसी के अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।
[4:40 PM, 10/31/2017] +91 95597 92300: 317 मतदान स्थलों पर पड़ेंगे वोट, केंद्रों की पड़ताल शुरू
कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति।
कन्नौज : जिले में आठ निकाय क्षेत्रों में तीन नगर पालिका व पांच नगर पंचायत के चुनाव होने हैं। इसके लिए 116 मतदान केंद्रों पर 317 मतदेय स्थल बनाए गए हैं। 29 नवंबर को वोट पड़ेंगे। परिषदीय विद्यालय, स्कूल, इंटर कालेज समेत कुछ सरकारी भवन मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इनमें परिषदीय विद्यालयों की स्थिति खराब है। सोमवार को 'दैनिक जागरण' ने इन केंद्रों की स्थिति का जायजा लिया।
केंद्रों पर बिजली, पानी, फर्नीचर की उचित व्यवस्था नहीं है। शौचालयों को लेकर भी शिकायतें हैं। इससे चुनाव के दौरान दिक्कतों को देखते हुए काम शुरू कर दिया गया है। अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में इंतजाम करने में जुट गए हैं। मतदान के दौरान वेबका¨स्टग भी होगी। इसके साथ ऑनलाइन गतिविधियों पर बड़े अफसर निगाह रखेंगे। वीडियो के साथ फोटोग्राफी भी होगी। प्रत्येक परिसर सीसीटीवी कैमरों से लैस रहेगा। इसके लिए केंद्रों का निरीक्षण किया जा रहा है।
वाय¨रग उखड़ी, हैंडपंप से गंदा पानी
विधानसभा के बाद निकाय चुनाव में भी अधिकांश परिषदीय विद्यालय केंद्र बनाए गए हैं। मकरंद नगर प्राथमिक विद्यालय की स्थिति बेहद खराब मिली। विद्यालय में मतदान केंद्र बनाया जाएगा। बिजली व पानी के इंतजाम अब तक नहीं किए गए हैं। वाय¨रग उखड़ी है तो तार टूटे पड़े हैं। ट्यूब लाइट व बल्ब भी नहीं है। परिसर में लगा हैंडपंप अर्से से गंदा पानी दे रहा है। विधानसभा चुनाव के दौरान भी केंद्र का यही हाल था। जगह-जगह दीवारों पर लिखे पुराने अफसरों के नंबर अब तक नहीं मिटाए गए हैं।
एक नजर में वार्ड व मतदान स्थल
निकाय क्षेत्र वार्ड मतदान स्थल
कन्नौज 25 73
छिबरामऊ 25 77
गुरसहायगंज 25 57
तालग्राम 11 14
सौरिख 11 23
सिकंदरपुर 10 10
समधन 16 33
तिर्वागंज 15 30
...........
''नगर व पंचायत क्षेत्र के विद्यालयों में सभी इंतजाम हैं। थोड़ी बहुत कमियां हैं तो वह नामांकन से पहले दुरुस्त कर ली जाएंगी। इससे चुनाव में दिक्कत नहीं होगी। -अखंड प्रताप सिंह, बेसिक शिक्षा अधिकारी।
''अफसर केंद्रों का दौरा कर रहे हैं। बिजली, पानी, फर्नीचर, शौचालय, रैंप समेत अन्य व्यवस्थाएं पहले हैं। कुछ जगह दिक्कतें हैं, उन्हें समय रहते ठीक करा लिया जाएगा। -विनीत कटियार, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी, पंचायत
[4:43 PM, 10/31/2017] +91 95597 92300: शाम चार बजे से सुलगने लगी थी चिंगारी
कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
तिर्वा (कन्नौज) : मेडिकल कालेज में मौजूदा वक्त में करीब 296 सीनियर छात्र हैं जबकि 200 जूनियर छात्र अध्ययनरत हैं। इनके बीच कई बार थोड़ी बातों पर कहासुनी हो चुकी है। मेडिकल कालेज सूत्रों के मुताबिक सोमवार शाम करीब चार बजे कुछ सीनियर छात्रों ने जूनियरों से रै¨गग शुरू कर दी। इसको लेकर जूनियर छात्रों ने विरोध जताया। उस दौरान मामला सुलट गया। इसके बाद छात्रों में शांति हो गई लेकिन अंदर ही अंदर ¨चगारी सुलगती रही। देर रात मेस में पहुंचने के बाद फिर हालात बिगड़ गए।
एसडीएम व सीओ ने संभाली कमान
देर रात बवाल की सूचना पर एसडीएम सदर शालिनी प्रभाकर, तिर्वा सीओ मोनिका यादव, सीओ सिटी लक्ष्मी कांत गौतम के साथ अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। एसडीएम सदर पहले तिर्वा में तैनात रह चुकी हैं। इसलिए उनको छात्रों को समझाने का जिम्मा दिया गया। इस दौरान छात्र हास्टलों के बाहर नारेबाजी करने के साथ फैकल्टी के खिलाफ भी गुस्सा जताते रहे। कुछ देर में पुलिस व प्रशासन ने समझाया तो पथराव बंद होने के साथ नारेबाजी भी रुक गई।

No comments:

Post a Comment