Tuesday, November 21, 2017

भाग्य कर्म से बनता और बिगड़ता है-अभय पांडेय

आज दिनाँक 21-नवम्बर-2017 का राशिफल

प्रस्तुत राशिफल आपकी चन्द्र राशि पर आधारित हैं | यदि आपको अपनी चन्द्र राशि नहीं पता है तो आप हमे Abhayskpandey@gmail.com पर ई मेल करके अपनी चन्द्र राशि की जानकारी ले सकते हैं| By ज्योतिर्विद् अभय पाण्डेय 9450537461

चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ

मेष-मेष राशि के जातकों के लिए आज का दिन अति उत्तम रहेगा। वाहन सुख की प्राप्ति होगी ।मनोबल के द्वारा कार्य क्षेत्र में सफलता प्राप्त होगी ।कुटुंब में सौहार्दपूर्ण वातावरण रहेगा। सरकारी कार्य में मनोवांछित सफलता प्राप्त होगी ।पिता का सुख प्राप्त होगा तथा सहकर्मियों का सहयोग प्राप्त होगा।

इ, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वु, वे, वो

इ, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वु, वे, वो

वृष-वृष राशि के जातकों के लिए आज का दिन मध्यम है। आज भूमि वाहन आदि का सुख प्राप्त होगा परंतु स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से आज का दिन उत्तम नहीं है ।ज्वर एवं उदर विकार से संबंधित रोगों से आज कष्ट होगा ।आज स्वभाव मे क्रोध की अधिकता रहेगी ।जिसके कारण दांपत्य जीवन में कलह हो सकता है ।

का, की, कु, घ, ड, छ, के, को, हा

मिथुन- मिथुन राशि के जातक आज अपनी माता के स्वास्थ्य के प्रति सजग रहें। हड्डी एवं ज्वर से संबंधित रोग से शारीरिक कष्ट हो सकता है ।परिवार में कलह पूर्ण वातावरण रहेगा तथा खर्च की अधिकता के कारण मन अशांत रहेगा। विद्या के प्रभाव से आय की प्राप्ति होगी। बाहरी स्थान से सम्मान प्राप्त होगा।

ही,  ही, हे, हो, डा डी, डू, डे, डो

कर्क-कर्क राशि के जातक आज आपने पराक्रम के द्वारा कार्य क्षेत्र में मनोवांछित सफलता प्राप्त करेंगे। मित्र एवं भाई बंधुओं का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। वअहं सुख प्राप्त होगा  समाज में सम्मान की प्राप्ति होगी ।भाग्य का पूर्ण सुख प्राप्त होगा ।प्रयास मात्र से ही कार्य में सिद्धि प्राप्त होगी ।

मा, मी,मू,मे,मो,टा,टी,टू,टे

सिंह-सिंह राशि के जातक आज अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त कर सकते हैं। आज उनके समक्ष शत्रु प्रभावहीन रहेंगे। व्यय अधिक होगा जिसके कारण आज के दिन तनाव रहेगा। आज आलस की अधिकता रहेगी ।जिसके कारण मनोनुकूल सफलता प्राप्त नहीं होगी। माता को ज्वर आदि से शारीरिक कष्ट हो सकता है।

टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो

कन्या-कन्या राशि के जातक आज भूमि  में निवेश ना करें ।भूमि में निवेश करने से हानि संभावित है ।मनोबल की कमी के कारण कार्य क्षेत्र में हानि होगी। परिवार का सहयोग प्राप्त होगा तथा आज वाणी का प्रभाव रहेगा। वाणी के प्रभाव से सज्जित धन में वृद्धि का योग बन रहा है।

रा, री, रु, रे, रो, ता, ती, तू, ते

तुला-तुला राशि के जातकों का मन आज प्रसन्न रहेगा। सुख समृद्धि में वृद्धि होगी ।आयात निर्यात से लाभ मिलेगा  राजकीय कार्य में सफलता प्राप्त होगी। शत्रु आपसे से प्रभावित होकर भेंट प्रदान करेगा। तंत्र आदि गूढ़ विद्या में रुचि बढ़ेगी तथा सफलता की भी प्राप्ति होगी। संतान के लिए आज का दिन अति उत्तम है ।

तो,ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू

वृश्चिक-वृश्चिक राशि के जातक आज अपने परिवार में सुख संदेश को प्राप्त कर सकते हैं। निर्माण  कार्य में खर्च होगा ।भोग विलास में रुचि बढ़ेगी। पराक्रम के द्वारा संचित धन में वृद्धि होगी। भूमि वाहन का सुख प्राप्त होगा। खान पान में सावधानी रखें भोजन में अनियमितता के कारण अपच से शारीरिक कष्ट हो सकता है।

ये, यो, भा, भी, भू, ध, फ, ढ, भे

धनु-धनु राशि के जातक आज परिवार में विरोध के कारण अशांत रहेंगे ।मित्र एवं शत्रु की पहचान करना आज मुश्किल है ।मित्रों से सावधान रहें इन के कारण व्यवसाय में हानि हो सकती है तथा कार्य क्षेत्र में अवरोध हो सकता है। विद्या के प्रभाव से समाज में सम्मान की प्राप्ति होगी ।भाग्य का पूर्ण सुख प्राप्त होगा ।विरोध के होते हुए भी सफलता प्राप्त होगी।

भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी

मकर-मकर राशि के जातक आज पूर्णतया स्वस्थ महसूस नहीं करेंगे ।वायु जनित रोग से कष्ट हो सकता है ।भूमि वाहन का सुख प्राप्त होगा। व्यवसाय में लाभ की प्राप्ति होगी ।जीवनसाथी के सहयोग से कार्य क्षेत्र में सफलता की प्राप्ति होगी होगी। बड़े भाई का पूर्ण सुख प्राप्त होगा ।साहसिक कार्य में सफलता प्राप्त होगी तथा समाज में सम्मान मिलेगा ।

गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा

कुम्भ- कुंभ राशि के जातक आज राजकीय कार्य में सफलता प्राप्त करेंगे तथा शत्रुओं पर विजय प्राप्त करेंगे ।अति आत्मविश्वास के कारण उच्च पदाधिकारियों से विरोध हो सकता है। जिसके कारण आय में हानि हो सकती। है वाणी पर संयम रखें तथा बोलने से पहले विचार करें ।वाणी की अस्पष्टता के कारण कार्य में असफलता प्राप्त हो सकती है ।

दी दू, थ, झ, ञ दे, दो, चा, ची

मीन- मीन राशि के जातक आज अस्वस्थ महसूस कर सकते हैं। ज्वर आदि से शारीरिक कष्ट हो सकता है ।क्रोध की अधिकता के कारण राजकीय कर्मचारी से विरोध हो सकता है तथा इसके कारण कार्य क्षेत्र में हानि हो सकती है। जीवन साथी से मतभेद हो सकता है ।भाग्य का पूर्ण सुख प्राप्त होगा।

No comments:

Post a Comment