Sunday, November 12, 2017

वाराणसी में चोरों के आगे तीसरी आंख भी फेल

वाराणसी:- जिला अस्पताल पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय पाण्डेयपुर में दानगंज से आए व्यक्ति का आज लगभग साढ़े ग्यारह बजे किसी अज्ञात व्यक्ति ने पर्स और मोबाईल चोरी कर लिया।
बताया जाता है की दानगंज से आये  अपने पिता का इलाज कराने के दौरान मोबाइल व पर्स चोरी हो गया।  जेब से मोबाईल; पर्स गायब होने का एहसास होते ही वह अपने जेब टटोलने लगे। जिसके बाद आनन फानन में जब पीड़ीत ने इसकी शिकायत करने सी एम एस के पास पहुंचा तो सी एम एस ने बात को टालते हुए कहा कि बाद में आओ अभी हम थोड़ा व्यस्त है ।
पीड़ीत व्यक्ति के पास से मोबाइल ,और पर्स ए,टी,एम कार्ड, आधार कार्ड  व 4500 रुपया  नगद चोर ने उड़ाया ॥
अभी तक तो पण्डित दीनदयाल अस्पताल मे चोर बाइक ;स्कूटर और साइकिल की चोरी जैसी घटनाओँ को अंजाम देते थे । लेकिन इससे भी मुकरा नही जा सकता की चोरी पहले अस्पताल के वार्डो मे भर्ती मरीजो के पास से होती थी और आजकल दिखाने आ रहे मरीजो के जेब से चोरी हो रही है । आखिरकार कब सुधार होगा पण्डित दीनदयाल अस्पताल प्रशासन का आखिरकार क्यूँ हैँ बेबस सख्ती नाम की तो कोई बात ही नही दिखती है पण्डित दीनदयाल अस्पताल कैम्पस के अंदर चाहे आप किसी वार्ड मे चले जाइये या किसी ओपीडी कक्ष मे या ट्रामा सेंटर मे यहाँ अक्सर देखा जाता है की दलालो से भरा रहता अस्पताल कैम्पस ।
यहाँ दीनदयाल अस्पताल मे चोरी दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है लेकिन चोरी जैसी घटनाओँ पर अंकुश लगाने की तरकीब अस्पताल प्रशासन के पास नही है । जब- जब  चोरी जैसी घटनाओँ को चोरो ने खुलेआम अंजाम दिया तब तब पूछने पर अस्पताल के सीएमएस का कहना होता है की वाहन की रख रखाव स्वयम की जिम्मेदारी है स्टैंड मे नही रखते है तो हम क्या करे ।
लेकिन आज की हुई चोरी के बारे मे अस्पताल के सीएमएस क्या कहेँगे यह आप सभी ऊपर लिखे वाक्याशों से समझ ही गये होगे । अस्पताल मे हो रही चोरी से ज्यादा सीएमएस साहब के लिये  कोई और काम ज़रूरी होता है पीड़ीत को टहलाना आम बात सा हो गया है ॥

अब देखना है की पण्डित दीनदयाल अस्पताल प्रशासन सीसी टीवी फुटेज मे देखकर चोरी जैसी घटना को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर क्या सख्त कदम उठाती है ॥

रिपोर्टर :- सन्तोष कुमार सिँह

No comments:

Post a Comment