Saturday, November 11, 2017

रखरखाव के अभाव से धक्कामार हो गयी एम्बुलेंस

कन्नौज से पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
कन्नौज  जनता की सेवा के लिए मुहैया कराई जाने वाली एम्बुलेंस की सेवाएं खरी नहीं उतर रही हैं। गुरूवार को मरीज ले जा रही एक एम्बुलेंस रास्ते में खड़ी हो गई। इस पर ढ़ाई घंटे बाद गांव पहुंची दूसरी एम्बुलेंस से पीड़ित को अस्पताल में भर्ती कराया गया।
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सरकार ने पीड़ितों को त्वरित स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए समाजवादी 108 एम्बुलेंस सेवा शुरू की थी। सत्ता का निजाम बदलने के बाद भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्ववर्ती सरकार द्वारा शुरू की गई इस सेवा को बहाल बनाए रखा। लेकिन यह एम्बुलेंस विगत कई माह से रख रखाव के अभाव में जनता की उम्मीदों पर खरी नहीं उतर रही हैं। कहीं इनके पास डीजल नहीं तो कहीं अस्पतालों में खटारा बन कर खड़ी हैं। ऐसे में स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर मुहैया कराई गई एम्बुलेंस के समय रहते न मिलने पर लोगों को खासी दिक्कतें हो रही हैं। गुरूवार को टड़ा रायपुर से एक महिला को प्रसव पीड़ा के चलते एम्बुलेंस को सूचना दी गई। इस पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में मौजूद 102 एम्बुलेंस के चालक अवधेश कुमार टड़ा रायपुर के लिए रवाना हुए। लेकिन यह एम्बुलेंस थोड़ी दूर चलने के बाद रास्ते में खड़ी हो गई। चालक ने इसे सही करने के काफी प्रयास किए। लेकिन वह स्टार्ट नहीं हो सकी। इस पर दूसरी एम्बुलेंस को गांव भेजकर महिला को प्रसव के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया।

No comments:

Post a Comment