Thursday, November 16, 2017

अयोध्या में दीवाली तो मथुरा में मनाएंगे होली-योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि हिंदुत्व और विकास एक दूसरे के विरोधी नहीं बल्कि पूरक हैं जो लोग हिंदुत्व का विरोध करते हैं, वे भारतीयता का विरोध करते हैं.
उन्होंने कहा, “हिंदुत्व और विकास एक दूसरे के विरोधी नहीं बल्कि पूरक हैं. हिंदुत्व किसी जाति, मजहब या धर्म का नहीं बल्कि राष्ट्रीयता का प्रतीक है. जो लोग हिंदुत्व का विरोध करते हैं, वे दरअसल भारतीयता का विरोध करते हैं और विकास का विरोध करते हैं. सेकुलरिज्म के नाम पर जातिवाद और परिवारवाद को बढ़ावा देने वाले तत्व, भ्रष्टाचार और राजनीति के अपराधीकरण करने वाले जब ऐसी बात करते हैं तो यह हास्यापद है.”

अयोध्या में दीपावली तो मथुरा में मनाएंगे होली

अयोध्या से चुनाव प्रचार की शुरुआत पर सीएम योगी ने कहा, “जहां से भगवान श्रीराम की पहचान है अगर उसे हम एक भव्यता के साथ देश और दुनिया के सामने पहुंचा पाए तो ये हमारा सौभाग्य होगा. दीपावली अयोध्या से जुड़ी हुई थी जिसे भुला दिया गया. हमारी सरकार ने दीपावली को अयोध्या से जोड़ने का एक प्रयास किया. हम अयोध्या में विकास करने जा रहे हैं. 137 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया है.”
निकाय चुनाव में अपनी रैलियों का आगाज अयोध्या से करने पर सीएम योगी ने कहा, “अयोध्या हम सब की आस्था का केंद्र. अयोध्या से शुभारंभ पर सवाल उठाने वाले राजनीति न करें. अयोध्या समेत पूरे प्रदेश के 652 नगर इकाईयों में चुनाव होने हैं. तो अयोध्या जाने का मतलब हुआ जहां जाने के बाद युद्ध की कोई संभावना ही न हो. सभी नगर इकाईयों के चुनाव परिणाम बीजेपी के पक्ष में आए, इसलिए अयोध्या से चुनाव प्रचार की शुरुआत करने जा रहा हूं.”

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी निकायों में जीत के बाद सभी विकास के कार्यों को जमीनी स्तर पर लागू किया जा सकेगा, जिसमें बाधा का काम पिछली सपा और बसपा की सरकारों ने किया.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विपक्ष मैदान छोड़कर भाग रहा है. विपक्ष के पास कोई मुद्दा ही नहीं बचा है. उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में सफाई के ठेकों में भ्रष्टाचार हुआ. सपा-बसपा सरकारों ने अपने चहेतों को ठेके बांट दिए.

निकाय चुनाव की जीत 2019 के लिए लाभप्रद

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा कि निकाय चुनाव में बीजेपी की शत प्रतिशत जीत होगी. उन्होंने कहा कि निकाय चुनाव की जीत 2019 के लिए लाभप्रद. हालांकि निकाय चुनाव को उनकी सरकार की सबसे बड़ी परीक्षा कहने पर उन्होंने कहा वे हर रोज परीक्षा देते हैं इसमें कोई नई बात नहीं है. जनता से किए गए वादों पर काम करना ही उनकी प्राथमिकता है.

अयोध्या में राम की मूर्ति की चर्चा पर अखिलेश को आई सद्बुद्धि

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने अयोध्या में राम की मूर्ति की चर्चा पर ही उन्हें सद्बुद्धि आई है. अब वे सैफई में भगवान कृष्ण की मूर्ति लगा रहे हैं.
सीएम योगी ने कहा दुर्योधन की मूर्ति की बात करने वालों को सद्बुद्धि मिले.

No comments:

Post a Comment