Monday, November 13, 2017

ह्र्दयगति रुकने से डीएम के पिता जी की हुई मौत

गोण्डा पवन कुमार द्विवेदी /आलमीडियाजर्नलिस्ट बेलफेयर एसोसिएशन

जिलाधिकारी के पिता का हृदयगति रूकने से आकस्मिक निधन

जिलाधिकारी गोण्डा जेबी सिंह के वयोवृद्ध पिता श्री सी0पी0 सिंह पुत्र स्वर्गीय द्वारिका सिंह का 98 वर्ष की आयु में बीती रात हृदयगति रूकने से आकस्मिक निधन हो गया। उन्होने लखनऊ स्थित अपने निजी आवास पर रात लगभग दस बजे अन्तिम सांस ली। वर्ष 1979 में सहकारिता विभाग में अफसर के पद से सेवानिवृत्त हुए स्वर्गीय श्री सिंह अपने पीछे भरापूरा परिवार छोड़ गए हैं। स्वर्गीय पिता जी को उनके ज्येष्ठ पुत्र वीरेन्द्र बहादुर सिंह ने मुखाग्नि दी। श्री सिंह के चार पुत्र और एक बेटी हैं जिनमें ज्येष्ठ पुत्र वीरेन्द्र बहादुर सिंह, डा0 धीरेन्द्र बहादुर सिंह, नरेन्द्र बहादुर सिंह, तथा सबसे छोटे पुत्र जीतेन्द्र बहादुर सिंह(जेबी सिंह) व एक बेटी श्रीमती सरला सिंह हैं। लखनऊ भैंसाकुण्ड बैकुण्ठ धाम में उनका अन्तिम संस्कार किया गया। श्री सिंह मूलरूप से सुल्तानपुर जनपद की तहसील लम्भुआ अन्तर्गत ग्राम बड़ागांव पोस्ट रिखपुर के निवासी थे और अपने छोटे बेटे डीएम गोण्डा के लखनऊ स्थित मकान पर रह रहे थे। जिलाधिकारी के पिता के आकस्मिक निधन से अधिकारियों-कर्मचारियों में शोक की लहर दौड़ गई। उनके अन्तिम संस्कार में प्रदेश के कैबिनेट मंत्री समाज कल्याण रमापति शास्त्री, मंत्री मोती सिंह, पूर्व सचिव नगर विकास एस0पी0 सिंह, पूर्व संासद सत्यदेव सिंह सहित भारी संख्या में वरिष्ठ अधिकारी व जनप्रतिनिधि शामिल हुए।

No comments:

Post a Comment