Monday, November 6, 2017

हड़ताल के जाम में फंसे जाती प्रमाणपत्र

हड़ताल में फंसे जाति प्रमाण पत्र
कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
कन्नौज : नामांकन के पहले दिन लेखपालों की हड़ताल का उम्मीदवारों पर असर दिखाई पड़ा। जाति प्रमाण पत्र न बनने के कारण अधिकांश उम्मीदवार पर्चा दाखिल नहीं कर सके। जाति व अदेयता प्रमाण पत्र के बिना अध्यक्ष व सभासद के उम्मीदवारों के दस्तावेज अधूरे रहे। इस कारण नामांकन करने नहीं पहुंचे। आठ निकाय क्षेत्रों की यही स्थिति रही। इससे उम्मीदवारों में नाराजगी दिखी। 17 से 31 अक्टूबर तक लेखपालों की हड़ताल के कारण यह दिक्कत हुई है। इस बीच ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल का कामकाज पूरी तरह ठप रहा। इससे हजारों आय, जाति व निवास पत्र फंस गए। जांच संबंधी रिपोर्ट भी नहीं लग सकी। इससे चुनाव संबंधी कामकाज बाधित हो रहा है। निकाय चुनाव के लिए आरक्षण सूची जारी होने के बाद उम्मीदवार परेशानी में पड़ गए। जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए होड़ लगी पर दिक्कत हुई। अब आश्वासन के बाद 31 अक्टूबर से लेखपालों ने हड़ताल स्थगित कर काम शुरुआत की है।

No comments:

Post a Comment