Monday, November 27, 2017

यूपी के शहरों में भी खुले में कूड़ा जलाने पर लगा प्रतिबन्ध

राज्य सरकार ने शहरों में खुले स्थान पर कूड़ा जलाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। नगर निकायों को वायु प्रदूषण से उत्पन्न स्थिति से बचाव के संबंध में पानी छिड़काव के निर्देश दिए गए हैं। प्रमुख सचिव नगर विकास मनोज कुमार सिंह ने इस संबंध में नगर आयुक्तों व अधिशासी अधिकारियों को निर्देश भेज दिए हैं।उन्होंने कहा है कि शहरों में तेजी से बढ़ रहे वायु प्रदूषण पर नियंत्रण पाने के लिए जरूरी उपाय करने की जरूरत है। शहरों में खुले स्थानों पर एकत्रित होने वाले कूड़े को किसी भी दशा में न जलाया जाए। कूड़ा जो सड़ गया है उसका खाद बनाया जाए तथा जो रिसाइकिल करने के लिए लायक है उसे रिसाइकिल करने की व्यवस्था की जाए। इस तरह से कूड़े का समुचित निस्तारण किया जाए।इसके अलावा शहरी क्षेत्रों में निर्माण कार्य यानी भवन निर्माण वाले स्थानों पर वैरीकेडिंग व स्क्रीनिंग के बाद ही निर्माण की अनुमति दी जाए। सड़कों की सफाई रोड स्वीपिंग मशीन के माध्यम से कराई जाए। सड़कों की सफाई के साथ जरूरत के आधार पर जल छिड़काव कराया जाए। लखनऊ में पानी के छिड़काव के कारण प्रदूषण में कमी आई है। इसलिए प्रदूषण से उत्पन्न स्थिति से बचाव के लिए प्रदेश के अन्य सभी शहनों में पानी का छिड़काव कराने की प्रक्रिया शुरू की जाए।

No comments:

Post a Comment