Wednesday, December 6, 2017

पहाड़ों पर बर्फबारी से कन्नौज में अचानक बढ़ी शर्दी-आलोक प्रजापति

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
कन्नौज । जिला प्रशासन व नगर पालिका की अनदेखी से ठंड में ठिठुरते लोगों को कहीं पनाह नहीं मिल रही है। सड़क पर जिदगी बेजार दिखाई पड़ रही हैं।बुजुर्गों, गरीबों व लाचार लोगों के लिए मुसीबत बनी ठंड से निजात के लिए कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं। इससे लोग परेशानी में हैं। पहाड़ों पर बफवारी से जिले में अचानक बड़ी सर्दी के माहौल ने दुश्वारियां बढ़ा दी हैं।
शहर  के जीटी रोड स्थित बस अड्डा, कन्नौज व सिटी रेलवे स्टेशन के आसपास रैन बसेरा अब तक निर्मित कराने की तरफ कदम नहीं बढ़े हैं। दर्जनों की संख्या में बुजुर्ग असहाय होकर सड़क पर घूमते नजर आते हैं। पालिका की तरफ से अब तक कोई अलाव जलाने के इंतजाम भी नहीं हुए हैं। इसका सीधा असर लोगों पर पड़ रहा है। शाम ढलने के बाद चलने वाली तेज हवाओं के कारण इनकी ठिठुरन बढ़ जाती है। मंगलवार को इस पर नजर दौड़ाई तो कहीं पर भी इंतजाम नाकाफी मिले। जीटी रोड, सरायमीरा, अंधा मोड़, तिर्वा रेलवे क्रा¨सग, तिर्वा रोड, कलेक्ट्रेट रोड, गैस एजेंसी रोड, जीटी रोड अंधा मोड़, सरायमीरा, मकरंदनगर से लेकर किसी भी इलाके में अलाव जलाने का कोई इंतजाम नहीं दिखाई पड़ा। इसके साथ बस अड्डे व अन्य जगहों पर बनने वाले रैन बसेरों को लेकर भी कोई हलचल नजर नहीं आई। करीब आधा दर्जन से अधिक बुजुर्ग जरूर सड़क पर ठंड से ठिठुरते नजर आए। इससे जिला प्रशासन व नगर पालिका की अनदेखी साफ नजर आई।
बोले अफसर -जगदीश प्रसाद, जिलाधिकारी।
ठंड से बुजुर्गों, असहायों व गरीबों को बचाने के लिए कार्य योजना बना ली गई है। जल्द इसे अमल में लाया जाएगा। कोई ठंड की वजह से परेशान नहीं होगा।

No comments:

Post a Comment