Monday, December 18, 2017

कोल्ड स्टोर में लगी आग हजारों कुंतल आलू स्वाहा

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
कन्नौज। मानीमऊ पुलिस चैकी क्षेत्र के ठठिया नेरा मार्ग पर स्थित कांग्रेस नेता रहे गिरीश चन्द्र दुबे के बेटे पुनीत दुबे के मुखिया जी कोल्ड स्टोरेज के चेंबर में आग लग गई। रविवार देर रात अचानक आग लग गई। देखते ही देखते आग ने पूरे कोल्ड स्टोरेज को अपनी चपेट में में लिया। सूचना के बाद फायर ब्रिगेड की कई गाड़ियां मौके पर पहुंची। आग पर काबू करने की कोशिश की, तब तक आग ने बड़ा रुप ले लिया था। बिल्डिंग से बाहर उसकी लपटें निकलने लगी। बता दें कि जिस कोल्ड स्टोरेज में आग लगी है, इस आग को बुझाने के लिए फायर बिग्रेड की तीन से ज्यादा गाड़ियां लगी थी। वहीं, इस आग में लाखों रुपए नुकसान बताया जा रहा है।
आसमान में धुएं का गुब्बार
आग इतनी विकाराल हो गई कि उसने सातवें मंजिल में बने चेबरों को चपेट में ले लिया। आसमान में धुएं का गुबार फैल गया। धुएं से आसपास के लोगों को सांस लेने में दिक्कत शुरू हो गई। आंखों में जलन होने लगी। आसपास के कई परिवार घर में ताला लगाकर रिश्तेदारों के घरों को चले गए। अगर लपटें बर्फ कारखाने तक पहुंच जाती और अमोनिया का रिसाव शुरू हो जाता तो बड़ा हादसा हो सकता था। स्थिति बेकाबू होने पर उन्होंने फिर अफसरों से शिकायत की। साथ ही मदद की गुजारिश की। इसके बाद तहसीलदार सदर आरके राजवंशी, सीओ लक्ष्मीकान्त गौतम के कहने पर फायर ब्रिगेड की 3 गाड़ियां पहुंची। कोल्ड स्टोरेज में लगी आग पर काबू पाने के लिए आडिनेंस फैक्ट्री और फर्टिलाइजर की भी गाड़ियों को बुलाया गया। पूर्व महापौर ने अनसुना कर दिया
कोल्ड स्टोरेज के मालिक से कहा गया था कि मजदूरों से बेसमेंट में भरे सामान को बाहर करा दें। फिर आग पूरी तरह बुझाई जा सकेगी लेकिन पूर्व महापौर ने अनसुना कर दिया था। इसलिए गाड़ियां और कर्मचारियों को कोल्ड स्टोरेज भेजने में दिक्कत आई। फायर अफसर ने बेसमेंट खाली कराने के लिए कहा था। जब वहां भरे धुएं की वजह से दमकल कर्मियों को आग बुझाने में दिक्कत हो रही था तो मजदूरों को वहां बोरे हटाने के लिए कैसा भेजा जा सकता था। मजदूरों की जान जोखिम में नहीं डाली जा सकती थी।

No comments:

Post a Comment