Thursday, December 21, 2017

लेखपाल संघ के सदस्यों को सम्बोधित करते ब्रजनन्दन सिंह

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
तिर्वा/कन्नौज। आठ सूत्रीय मांगो को लेकर लेखपाल संघ ने काम-काज ठप कर अनिश्चितकालीन हड़ताल के दुसरे दिन ऐलान करते हुये जमकर प्रर्दशन किया। उनका कहना है कि जब तक उनकी समस्याओं का निस्तारण नही होता तब तक वे काम बंद रखेगे। 
बुधवार को लेखपाल संघ के अध्यक्ष ब्रजनन्दन सिंह यादव के नेतृत्व मे संघ के सदस्यों ने नारेबाजी के साथ अनिश्चितकालीन हड़ताल का ऐलान करते हुये नायब तहसीलदार कोर्ट के समक्ष धरने पर बैठ गये। उनका कहना था कि उनकी ज्वलंत समस्याओ को किसी भी अधिकारी ने गम्भीरता से नही लिया। जिसके चलते आज तक समस्याये जस की तस बनी हुई है। उनके 8 सूत्री एजेण्डे मे माह अक्टूबर एंव नवम्बर का वेतन तत्काल भुगतान किया जाये तथा माह की पहली तारीख को ही वेतन देना सुनिश्चित हो, वर्ष 2016-17 का बोनस भुगतान, बकाया ऐरियर दिया जाना, जीपीएफ पासबुकों को अध्यावधिक कराया जाये, सेवानिवृत्त लेखपाल राकेशचन्द्र, रमेशचन्द्र, आत्माराम एंव ओमप्रकाश के समस्त देयो का तत्काल भुगतान, आयकर रिर्टन फार्म नम्बर 16 उपलब्ध कराना, अनूप तिवारी, मिथलेश सिंह एंव नूर मोहम्मद लेखपालो  के निलम्बन समय का वेतन भुगतान करना एंव भू चित्र उपलब्ध कराना जैसे अन्य कई समस्याये शामिल है। पूरे दिन चले प्रदर्शन मे लेखपालो ने अपनी समस्याओ ंको लेकर अधिकारियो को जमकर कोसा। उनका कहना है कि जब उनकी समस्याओं का निस्तारण नही किया तो वे काम-काज ठप रखेगे। फिलहाल लेखपालो द्वारा कामकाज बंद रखने से दूर दराज से आई जनता को वैरंग वापस जाना पड़ा। प्रदर्शन के दौरान सोवरन सिंह भारती, रामसेवक दोहरे, रिषी कुमार, रामदास, राजेश पटेल, सुशील दीक्षित, अजय कुमार, ब्रजमोहन सिंह, श्रीकृष्ण त्रिपाठी, ज्ञान सिंह, वीरभान, राकेश बाबू, धर्मवीर, बीरेन्द्र बहादुर, ओमप्रकाश तिवारी, महेन्द्र सिंह, नरेन्द्र  सिंह, विवेक सोनी, जगराम सिंह सहित अन्य लेखपाल मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment