Friday, December 22, 2017

उत्तरप्रदेश में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन जल्द

गोंडा पवन कुमार द्विवेदी /जिला अध्यक्ष आलमीडिया जर्नलिस्ट बेलफेयर एसोसिएशन
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जनसमस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए आगामी जनवरी माह के प्रथम सप्ताह में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन की शुरूआत होने जा रही है। इस सम्बन्ध में जिलाधिकाारी की अध्यक्ष्ता में एक दिवसीय बृहद कार्यशाला का आयोजन जिला पंचायत सभागार में कर अधिकारियों को शिकायतों के निस्तारण के तरीकों के बारे में गहनता से प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान जिलाधिकारी जेबी सिंह ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा जल्द ही फोन द्वारा शिकायत दर्ज कराने के लिए 1076 हेल्पलाइन सेवा का शुभारम्भ किया जाएगा। हेल्पलाइन नम्बर 1076 पर काॅल कर कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत दर्ज करा सकेगा। शिकायतकर्ता की शिकायत लखनऊ कन्ट्रोल रूम में दर्ज की जाएगी तथा शिकायत की डिटेल सम्बन्धित विभागीय अधिकारी के मोबाइल नम्बर पर शिकायतकर्ता के मोबाइल नम्बर सहित आ जाएगी तथा शिकायत की पूरी डिटेल अधिकारी के आधिकारिक लाॅग इन पर आ जाएगी। अधिकारियों को प्राप्त शिकायत का निस्तारण निश्चित समयवधि के भीतर हर हाल में करना ही होगा। उन्होने बताया कि शिकायत की आनलाइन मानीटरिंग स्वयं मुख्यमंत्री सहित अन्य तमाम स्तरों आनलाइन होगी। इसलिए अधिकारियों को गुवणवत्तापूर्ण निस्तारण व समयावधि के भीतर करना होगा। शिकायतों का प्रेषण कैटगरी वाइज होगा। कार्यशाला में पुलिस अधीक्षक ने पुलिस विभाग के अधिकारियों को आगाह करते हुए निर्देश दिए कि अब जनता की शिकायतों के निस्तारण में पूरी निष्पक्षता के साथ कार्य करें अन्यथा निश्चित ही कार्यवाही होगी। कार्यशाला के उपरान्त जिलाधिकारी ने आईजीआरएस पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों की समीक्षा की। शिकायतों के निस्तारण में फिसड्डी अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। जिलाधिकारी ने लम्बित शिकायतों के निस्तारण के लिए तीन दिन का समय देते हुए निस्तारण रिपोर्ट रिपोर्ट मांगी है। समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि सबसे ज्यादा लम्बित शिकायतें विकास विभाग में पीडी डीआरडीए के स्तर पर 162, डीपीआरओ के स्तर पर 114, डीडीओ के स्तर पर 56, एलडीएम के स्तर पर 246, सीडीओ के स्तर पर 39, बीएसए के स्तर पर 43, डाॅयट प्राचार्य स्तर पर 16, पुलिस अधीक्षक के स्तर पर 38,विद्युत विभाग में 38, ईओ नगर पालिका गोण्डा के स्तर पर 23 शिकायतें लम्बित पाई गई। इसी प्रकार तहसील स्तर पर एसडीएम तरबगंज के स्तर पर 226, एसडीएम सदर के स्तर पर 208, एसडीएम मनकापुर के स्तर पर 158 तथा एसडीएम करनैलगंज के स्तर पर 203 शिकायतें, तहसीलदार तरबगंज के स्तर पर 24 व तहसीलदार करनैलगंज के स्तर पर 11 शिकायतें लम्बित पाई गईं। समीक्षा के उपरान्त पुलिस अधीक्षक द्वारा अक्टूबर माह में बड़गांव इलाहाबाद बैंक लूट काण्ड के अभियुक्त की सीसीटीवी फुटेज से प्राप्त फोटो  स्लाइड के माध्यम से दिखाकर अपराधी की शिनाख्त कराने में सहयोग की अपील की।

 कार्यशाला में पुलिस अधीक्षक उमेश कुमार सिंह, सीडीओ दिव्या मित्तल, अपर पुलिस अधीक्षक हृदेश कुमार, सीआरओ एवं आईजीआरएस के नोडल अधिकारी अरूण कुमार शुक्ल, नगर मजिस्ट्रेट पीडी गुप्ता, एसडीएम सदर अर्चना वर्मा, एसडीएम मनकापुर उमेशचन्द्र उपाध्याय, एसडीएम तरबगंज अमरेश मौर्य, सीओ करनैलगंज केसी सिंह, सीओ तरबगंज ब्रम्ह सिंह, सीओ मनकापुर श्ंाकर प्रसाद, उपश्रमायुक्त देवीपाटन मण्डल शमीम अख्तर अंसारी, तहसीलदार करनैलगंज राम नरायन वर्मा, बीएसए, डीपीआरओ, जिला समाज कल्याण अधिकारी, जिला आबकारी अधिकारी ओंकारनाथ पाण्डेय, आईजीआरएस लिपिक संजय श्रीवास्तव सहित सभी थानों के थानाध्यक्षगण तथा विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे। प्रशिक्षण का कार्य जिला सूचना विज्ञान अधिकारी गिरीश कुमार तथा ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमित गुप्ता ने किया।

No comments:

Post a Comment