Wednesday, December 20, 2017

भोपाल एमपी वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

भोपाल। एमपी वर्किंग जनर्लिष्ट यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष राधावल्लभ शारदा ने प्रदेश के मुखिया को आयुक्त जनसम्पर्क भोपाल द्वारा पत्रकार सुरक्षा कानून एवं जांच समिति बनाने हेतु ज्ञापन सौंपा है। सौंपे गए ज्ञापन में प्रदेशाध्यक्ष ने बताया कि पत्रकार सरकार एवं समाज हित में अपने जीवन का 80 प्रतिशत समय लगा देता है, लेकिन उनकी सुरक्षा के लिए कोई कानून नहीं है। संगठन द्वारा पत्रकार सुरक्षा कानून बनाने की मांग को लेकर संगठन के बैनर तले विगत तीन वर्षों से ब्लाक स्तर, जिला स्तर एवं प्रदेश स्तर पर समय-समय पर प्रदेशाध्यक्ष एवं संगठन के पदाधिकारियों द्वारा मांग की जाती रही है। वहीं शासन स्तर से अभी तक पत्रकार सुरक्षा कानून बनाने का केवल आश्वासन ही मिला है। वहीं एमपी वर्किंग जनलिष्ट युनियर द्वारा पत्रकारों पर दर्ज प्रकरणों की जांच हेतु एक समिति गठित करने की भी पिछले 6 वर्षों से मांग की जा रही है जिस पर भी वर्तमान तक कोई ध्यान नहीं दिया गया है। जांच समिति दो स्तर पर बनाने की मांग की गई जिसमें राज्य स्तरीय एवं जिला स्तरीय समिति का गठन किया जाने की मांग की गई है जिसमें राज्य स्तरीय समिति में पुलिस महानिदेशक आयुक्त जनसम्पर्क तथा ट्रेड युनियन के पंजीकृत पत्रकार प्रदेशाध्यक्ष सम्मिलित हो। वहीं जिला स्तर पर पुलिस अधीक्षक, जिला जनसम्पर्क अधिकारी एवं ट्रेड यूनियन के पत्रकार जिलाध्यक्ष सम्मिलित हो। इस तरह दो समितियां बनाने की मांग की गई थी ताकि पत्रकारों को राहत मिल सके। लेकिन इस संबंध में भी अभी तक शासन स्तर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है। प्रदेशाध्यक्ष राधावल्लभ शारदा ने यूनियन के समस्त जिलाध्यक्ष से इस संबंध में अपने-अपने जिलों में पत्रकार सुरक्षा कानून एवं जांच समिति बनाने के लिए जिला जनसम्पर्क अधिकारी के माध्यम से आयुक्त जनसम्पर्क एवं मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपने की अपील की है। 

                                      नवल वर्मा    
                                 जिलाध्यक्ष बैतूल
                       एवं प्रदेश मीडिया प्रभारी
              एमपी वर्किंग जनर्लिष्ट यूनियन 
                      मोबा. 9425002316

No comments:

Post a Comment