Saturday, December 23, 2017

अवैध कब्जे की भरमार प्रशाशन के दावे हवा हवाई

गोंडा पवन कुमार द्विवेदी /जिला अध्यक्ष आलमीडिया जर्नलिस्ट बेलफेयर एसोसिएशन।              गोंडा जनपद मे अवैध कब्जे की भरमार है वही प्रशासन उसे हटाने व उस पर कार्रवाई न करके उसको संरक्षण देकर मलाई काट रहा है ,वही शासन का आदेश है कि अवैध कब्जे हटाए जाए व जो कब्जा न हटाए उसके खिलाफ कार्रवाई की जाय लेकिन ऐसा कही कुछ दिखाई नही दे रहा है ।जिसकी एक बानगी गोंडा बलरामपुर मार्ग पर स्थित इटियाथोक बाजार के मुख्य चौराहे पर देखने को मिल रही ।मुख्य चौराहे पर गाटा संख्या 510 मे करीब दो एकड का तालाब स्थित है ।जिसको पाट कर करीब 15 लोगो ने बाकायदा घर व दुकान का निर्माण कर लिया जिसकी शिकायत कई बार ग्राम वासियो के द्वारा की गई उसके बाद भी जिम्मेदार अधिकारियो ,कर्म चारियो ने उचित कार्रवाई न करके लोगो का मकान बनने दिया ।इस तरह उस तालाब का अस्तित्व खतरे मे नजर आ रहा है ।इस तरह का अवैध अतिक्रमण साफ साफ दिख रहा है उसके बाद भी कोई कार्रवाई न होने से अवैध अतिक्रमण करने वालो के हौसले बुलंद है ।वे सरेआम कहने से नही डरते है कि कोई मेरा क्या कर लेगा ।इस तरह के अतिक्रमण से जहाॅ  जब बरसात होता है तो पूरा बाजार जलमग्न हो जाता है जिसकी शिकायत बाजारवासियो ने कई बार करने के बाद कोई सुनवाई न होने से शिकायत करताओ के हौसले पस्त हो गए ।वही जिन लोगो ने अतिक्रमण कर रखा है उनके खिलाफ जुर्माने का आदेश भी हो गया उसके बाद भी कोई कार्रवाई नही हुई है ।अब यहाॅ एक बात साफ है कि प्रशासन दोगली भूमिका स्पष्ट नजर आ रही है ।जहाॅ एक तरफ सरकार का साफ दिशा निर्देश है कि अवैध कब्जे हटाए जाए तथा अवैध कब्जे करने वालो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाय लेकिन अभी तक अवैध कब्जे दारो के खिलाफ कार्यवाही न होने से सरकार का आदेश राजस्व कर्मियो व जिला प्रशासन बेईमानी साबित हो रहा है ।वही सरकार के द्वारा ऐसे कर्मियो पर कोई कार्रवाई न करना सरकार की नियति को दर्शाता है ।अब ऐसे मे कानून बनाने से क्या फायदा जब उसका पालन न हो ।इस तरह इटियाथोक बाजार गन्दगी ,अवैध कब्जे व जल निकासी की व्यवस्था न होने से पूरा बाजार प्रशासन को खुला मुह चिढा रहा है ।

No comments:

Post a Comment