Tuesday, December 26, 2017

मुख्यमंत्री कोष से मद्त का प्रयास

कन्नौज ब्यूरो पवन कुशवाहा के साथ आलोक प्रजापति
कन्नौज । मटर की कम पैदावार के कारण सदमे में किसान की मौत के मामले में रविवार को प्रशासनिक अफसरों समेत जनप्रतिनिधि पीड़ित परिजनों से मिले। प्रशासन ने मुख्यमंत्री राहत कोष से 30 हजार रुपये मदद की कोशिश शुरू की है।
शनिवार को सदर तहसीलदार ऋषिकांत राजवंशी उदैतापुर स्थित मृतक किसान मलखान सिह के परिजनों से मिले। आसपास के ग्रामीणों व अन्य लोगों से पूछताछ में पता चला कि मलखान सिह के नाम डेढ़ बीघा जमीन है। इसमें मटर की फसल बोई थी। कम पैदावार के कारण वह तनाव में था। तहसीलदार ने बताया कि उसकी सदमे से मौत के मामले में आपदा या हादसे के तौर पर आर्थिक मदद नहीं कराई जा सकती है। इसलिए परिवार की आर्थिक स्थिति खराब देख राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के तहत 30 हजार रुपये मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से दिलाने की रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी जा रही है। पीड़ित परिवार को हर संभव मदद दिलाने की कोशिश होगी। वहीं, कन्नौज सदर विधायक अनिल दोहरे व जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि संजू कटियार ने भी पीड़ित परिजनों से मुलाकात कर मदद का भरोसा दिलाया। विधायक ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा सरकार में मृतक किसानों के परिवारों को पांच लाख रुपये का आर्थिक लाभ दिया जाता रहा लेकिन मौजूदा भाजपा में इसे बंद कर दिया गया। इससे गरीब किसानों को मदद नहीं मिल पा रही है।

No comments:

Post a Comment