Wednesday, January 24, 2018

सुप्रीम कोर्ट ने दिया मप्र सरकार को झटका 25 को रिलीज होगी पद्मावत

नई दिल्ली पद्मावत की रिलीज के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गई मध्य प्रदेश सरकार को बड़ा झटका लगा है| सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म की रिलीज़ को लेकर लगाई गई पुनिर्विचार याचिका खारिज कर दी है। राजस्थान और मध्य प्रदेश सरकार ने फिल्म के रिलीज होने पर कानून व्यवस्था बिगड़ने का हवाला देते हुए अदालत के फैसले पर पुनर्विचार के लिए सोमवार को याचिका लगाई थी। मगंलवार को इस पर सुनवाई करते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि कानून व्यवस्था संभालना राज्य सरकार का काम है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम धमकी वाली याचिकाओं को कैसे मंजूर कर लें। राजस्थान और मध्य प्रदेश के वकीलों ने अदालत के 18 जनवरी के फैसले के संदर्भ में संशोधन की मांग की है। सुप्रीम कोर्ट ने फैसला लिया है कि पद्मावत की रिलीज पर किसी राज्य में प्रतिबंध नहीं लगेगा। गौरतलब है कि निर्देशक संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावत' को लेकर करणी सेना देश के अलग-अलग हिस्सों में विरोध कर रही है। मध्यप्रदेश, राजस्थान और गुजरात में यह विरोध अधिक देखने को मिल रहा है| सुप्रीम कोर्ट ने पहले ही फिल्म को रिलीज़ करने का रास्ता साफ़ कर दिया था, जिसके बाद राजस्थान और मध्य प्रदेश सरकार ने पुनर्विचार याचिका लगाई थी| सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आप कानून व्यवस्था बिगड़ने का हवाला दे रहे हैं ऐसी याचिका पर हम सुनवाई क्यों करें। फिल्म को सर्टिफिकेट मिला है और कोर्ट ने रिलीज करने का आदेश दिया है।

*सरकार के लिए धर्म संकट*

पद्मावत पहले 1 दिसंबर 2017 को रिलीज होने वासी थी, लेकिन विवाद तो बढ़ता देख इस फिल्म की रिलीज डेट को टाल दिया गया था| जिसके बाद फिल्म को 25 जनवरी को रिलीज़ करने का फैसला लिया गया है| हालांकि मध्य प्रदेश सहित देश भर में फिल्म की रिलीज़ रोकने को लेकर सड़कों पर जमकर प्रदर्शन हो रहा है| फिल्म को रिलीज़ होने में दो दिन है और सरकारों के लिए बड़ी मुश्किल खड़ी हो गई है| एक तरफ सुप्रीम कोर्ट का आदेश है और दूसरी तरफ सड़कों पर जनता| सरकार आगामी चुनावों को देखते हुए फूंक-फूंक कर कदम रख रही है, वहीं बात कानून व्यवस्था की भी है, क्यूंकि एक बड़ा वर्ग फिल्म को लेकर बड़ी चेतावनी दे रहा है और सड़कों पर आंदोलन करने को तैयार है| अब देखना होगा आगे क्या होता है| वहीं मध्य प्रदेश सरकार आगे सुप्रीम कोर्ट में फिर रिव्यू पिटीशन लगाने की तैयारी में है| 

No comments:

Post a Comment