Wednesday, January 17, 2018

गरीब को दरोगा ने पीटा तो दरोगा को पार्षद ने और फिर

 उत्तर प्रदेश के सीएम पुलिस के दाग को सुधारने का प्रयास कर रहे, लेकिन खाकीधारी पुराने ढर्रे पर ही काम कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला देररात गोविंदनगर थानाक्षेत्र के नंदलाल चौराहे पर देखने को मिला। यहां एक गरीब ठेलेवाले को बकमरमंडी चौकी प्रभारी पीटने लगे। इसी दौरान वहीं पर खड़े बसपा पार्षद ने दरोगा की करतूत को देख भड़क गए और ठेलेवाले को छोड़ने को कहने लगे। लेकिन दरोगा ने पार्षद के साथ अभद्रता शुरू कर दी। जिस पर पार्षद के समर्थक उत्तेजित हो गए और दरोगा को जमीन पर गिराकर पीटने लगे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने चौकी प्रभारी को छुड़वाया और पार्षद सहित उनके कई समर्थकों को अरेस्ट कर घायल दरोगा को हैलट भेजा।गोविंदनगर के नंदलाल चौराहे पर ऋषभ केसरवानी फल का ठेला लगाए हुए थे। इसी दौरान बकरमंडी चौकी प्रभारी भूपेंद्र सिंह की बुलेट बाइक ठेले से टकरा गई। चौकी इंचार्ज ने बाइक खड़ी कर गरीब ठेलेवाले को पीटने लगे। उसने बचाए जाने की गुहार लगाई तो कुछ दूरी पर खड़े वार्ड-38 के बसपा पार्षद मुकेश चौधरी उर्फ दइया मौके पर पहुंच गए और ठेलेवाले को छोड़ने को कहा। जिस पर दरोगा पार्षद को गाली-गलौज से देकर हट जाने को कहा। जिसके चलते पार्षद ने दरोगा को धक्का दे दिया। दरोगा जैसे ही पार्षद को पीटने के लिए बड़े तो उनके कार्यकर्ता दौड़ पड़े। बसपा पार्षद के कार्यकर्ताओं ने दरोगा को जमीन पर गिरा जमकर पिटाई कर दी। दरोगा बसपा कार्यकर्ताओं की मार से गंभीर रूप से घायल हो गए और सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह उसे उन्हें छुड़कर अस्पताल भिजवाया।फल ठेला लगाने वाले ऋषभ केसरवानी ने बताया कि चौकी इंचार्ज तेज रफ्तार में बुलेट दौड़ा रहे थे और आकर सीधे ठेले पर टक्कर मार दी। ठेले पर रखे सारे फल जमीन पर गिर गए। हम फल उठाने लगे, तभी चौकी इंचार्ज ने हमें पकड़ लिया और पीटने लगे। हमने विरोध किया तो उन्होंने बुलेट में खरोंच लग जाने के नाम पर एक हजार रुपए मांगा। जब मैंने पैसे देने से इंकार कर दिया तो वह मुझे पीटने लगे।बीच-बचाव के लिए आए पार्षद के साथ भी चौकी इंचार्ज हाथापाई पर उतारू हो गए। इस बीच किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम पर सूचना दे दी। कुछ ही देर में गोविंदनगर थाने की पुलिस पहुंची तो पिटाई करने वाले भागने लगे। पुलिस ने दौड़ाकर पार्षद मुकेश चौधरी और एक समर्थक अक्षय तिवारी को पकड़ लिया। चौकी इंचार्ज को मेडिकल के लिए हैलट भेजा।पुलिस ने बसपा पार्षद मुकेश चौधरी को अरेस्ट कर थाने ले गई। बसना जोनल कोआर्डिनेटर नौशाल अली को जब इस प्रकरण की जानकारी हुई तो वह थाने पहुंचे और पार्षद को छोड़ने को कहा। लेकिन पुलिस ने दरोगा की तहरीर पर पार्षद व उनके एक सहयोगी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।इस पर नौशाल अली ने बताया कि पूरे प्रकरण को लेकर हम पुलिस के अलाधिकारियों के पास लेकर जाएंगे। चौकी इंचार्ज ने गरीब ठेलेवाले को पीटा और बचाव करने आए बसपा पार्षद के साथ भी हाथापाई की। बसपा पार्षद के साथ ही ठेलेवाले भी दरोगा के खिलाफ एफआईआर लिखने के लिए तहरीर देंगे। अगर पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया तो हम न्यायालय की शरण में जाएंगे।वहीं एसएसपी अखिलेश मीणा ने बताया कि घटना गंभीर है। दरोगा का मेडिकल कराया गया है। दरोगा को पीटने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई हे। मारपीट के आरोपी पार्षद को जेल भेजा जाएगा। एसपी साउथ से भी जांच रिपोर्ट भी मांगी गई।

No comments:

Post a Comment