Friday, January 19, 2018

आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर आज से लगेगा टोल टैक्स

कन्नौज रिपोर्ट पवन कुशवाहा  के साथ आलोक प्रजापति
तिर्वा (कन्नौज) । आगरा -लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बिल्हौर के अरौल, कन्नौज के फगुहा भट्ठा और तालग्राम पर बनाए गए टोल प्लाजा पर अधिकांश काम आधे-अधूरे हैं। अभी यहां काम चल ही रहा है, लेकिन 19 जनवरी से टैक्स वसूली की तैयारी शुरू हो गई है। यहां रंग-रोगन से लेकर अचानक वाहनों की संख्या अधिक होने पर यात्रियों की सुविधा के इंतजाम नाकाफी हैं। सर्विस रोड व लिंक सड़कों पर भी काम हो रहा है।आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर वाहनों के फर्राटा भरने की शुरुआत नवंबर 2016 में हुई थी, मगर अभी तक तमाम काम पूरे नहीं हो पाए हैं। कार्यदायी संस्था के कर्मचारी मुख्य सड़क से लेकर सर्विस व लिक रोड पर संकेतक लगाने में जुटे हैं। विश्राम स्थलों पर भी काम काफी अधूरा है। कन्नौज के पड़ोसी जिले मैनपुरी में बने विश्राम स्थल पर जगह-जगह गिट्टी व मिट्टी पड़ी है। इससे लोगों को ठहरने में दिक्कत है। तकरीबन हर टोल प्लाजा पर काम चल रहे हैं।
एक्सप्रेस-वे पर ये दिक्कतें भी
-जिले के दो दर्जन गांवों के पास डिवाइडर की जाली टूटी।
-दोनों किनारे पर रेलिग क्षतिग्रस्त, ग्रामीण करते आवाजाही
-जगह-जगह आवारा मवेशियों को रोकने के कोई इंतजाम नहीं।
-आए दिन हादसों का प्रमुख कारण बन रहे आवारा जानवर
बोले अफसर -- दुर्घटनाओं का कारण तय रफ्तार सौ किलोमीटर प्रतिघंटा से अधिक तेज वाहन दौड़ाना है। जानवरों को रोकने के लिए लोगों में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। टोल प्लाजा के सभी काम पूरे हो चुके हैं। छिटपुट कमी 19 जनवरी से पहले पूरी हो जाएंगी। कोई दिक्कत नहीं आएगी।
कटी पड़ी हैं लोहे की जालियां
कन्नौज। मवेशियों और आसपास रहने वाले ग्रामीणों को एक्सप्रेस वे पर आने से रोकने के लिए सुरक्षा जालियां एक्सप्रेस वे के नीचे और किनारे लगाई गई हैं। कई स्थानों पर ये जालियां कटी पड़ी हैं। इनसे ग्रामीण और मवेशी एक्सप्रेस वे पर आ जाते हैं। अफसर भी ग्रामीणों द्वारा जाली काटने की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ रहे हैं। जिम्मेदार कोई भी हो लेकिन हकीकत में इसका खामियाजा वाहन सवारों को ही भुगतना पड़ रहा है।
तत्काल पुलिस और एंबुलेंस मुहैया नहीं
कन्नौज। हादसे के बाद मौके पर तत्काल पुलिस और एंबुलेंस मुहैया होने की भी व्यवस्था नहीं है। हालांकि एसपी ने थाना पुलिस को एक्सप्रेस वे पर सक्रियता बढ़ाने के आदेश दिए हैं लेकिन इसका परिणाम अभी नहीं दिख रहा है। कुछ दिन पहले ही 13 वाहन कोहरे के कारण एक-दूसरे से टकरा गए थे, मदद के नाम पर अराजक तत्वों ने घायलों से लूटपाट भी की थी। पुलिस जब तक मौके पर पहुंचती वे भाग चुके थे। कुछ भुक्तभोगियों ने मौखिक रूप से थाना पुलिस को इसकी जानकारी भी दी थी।
इसके बाद भी पुलिस कुछ पैसे लेकर इन्हें फर्राटा भरने की छूट दे देती है। तालग्राम क्षेत्र में आठ जनवरी को एक्सप्रेस वे पर खड़ी डीसीएम में पीछे से कार घुस गई थी। हादसे में तीन की घटना के समय और एक की बाद में मथुरा में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। ये भारी वाहन बिना अनुमति के एक्सप्रेस वे पर कैसे आ गए, इसका जवाब अधिकारियों के पास भी नहीं है।
आगरा से कन्नौज के बीच ये पड़ेगा टोल
कन्नौज। आगरा से फगुआ भट्ठा के बीच की दूरी तय करने के लिए यात्रियों को वाहन के हिसाब से टोल टैक्स देना होगा। दो और तीन पहिया वाहन चालकों को 180 रुपये, कार-जीप चालकों को 360 रुपये, मिनी बस पर 570 रुपये, बस-ट्रक पर 1140 रुपये, तीन से छह एक्सेल वाहनों के लिए 1750 रुपये, सात या इससे ज्यादा एक्सेल वाहनों पर 2245 रुपये टोल टैक्स लगेगा।

No comments:

Post a Comment