Monday, January 22, 2018

मेरठ जिला कारागार में कैदी ने फांसी लगा कर की आत्महत्या

मेरठ अक्सर विवादों के लिए सुर्ख़ियों में रहने वाले मेरठ के चौ चरण सिंह ज़िला कारागार आज फिर चर्चा में बना हुआ है। जहां जेल में बंद एक कैदी ने जेल परिसर में बने शौचालय में खुद को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस घटना से जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। फिलहाल मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। वहीं मामले में मृतक के परिजनों ने जेल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं मेरठ के परीक्षित गढ़ थाना इलाके के सोहना गांव के रहने वाले सोमेंद्र पर वर्ष 2015 में खुद की पत्नी की जलाकर हत्या करने का आरोप लगा था। पुलिस ने उक्त प्रकरण में उस पर 302 का मामला दर्ज किया था और उसे मेरठ जेल भेजा था। तभी से वो यहां बंद है, लेकिन रविवार जेल में उस वक़्त हड़कंप मच गया जब सोमेंद्र ने जेल के भीतर बने शौचालय में खुद को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जेल प्रशासन ने उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। साथ ही मृतक के परिजनों को इस बाबत जानकारी दी।परिजनों ने लगाए गंभीर आरोपवहीं इस मामले की खबर जब परिजनों को पता चली तो वो पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे जहां उन्होंने इसे आत्महत्या नहीं हत्या बताया। परिजनों का आरोप है कि जेल में सोमेंद्र को टॉर्चर किया जाता था। इससे पैसे मांगे जाते थे इसलिए उसने मजबूर होकर ये कदम उठाया। परिजनों ने जेल प्रशासन को सोमेंद्र को मौत का ज़िम्मेदार ठहराया और दोषियों पर कार्रवाई कर जेल भेजने की मांग की। वहीं अपनी किरकिरी से बचने के लिए जेल प्रशासन इस मामले में कोई प्रतिक्रिया देने से बचता रहा।एसपी ने जांच के दिए आदेशउधर, एसपी सिटी ने परिवार द्वारा जेल प्रशासन पर लगाए गए आरोपों को भी जांच करने के आदेश दिए हैं।

No comments:

Post a Comment