Friday, January 26, 2018

गणतन्त्र दिवस को लेकर दिल्ली के चप्पे चप्पे पर कड़ी चौकसी

गणतंत्र दिवस की तैयारियों और हाई-प्रोफाइल शिखर सम्मेलन के लिए 10 आसियान नेताओं के आगमन के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में जमीन से लेकर आसमान तक ऐसी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गयी है कि परिंदा भी पर ना मार सके।दिल्ली और शहर के सीमावर्ती इलाकों में हजारों सशस्त्र कर्मी पूरी सतर्कता के साथ गतिविधयों पर पैनी नजर बनाए हुए हैं ताकि कल आयोजित होने वाला गणतंत्र दिवस समारोह सफलतापूर्वक संपन्न हो।अधिकारी ने एएनएस को बताया कि विमान रोधी बंदूकों के साथ बड़ी संख्या में अतिरिक्त सुरक्षा कर्मी तैनात किए जाएंगे।सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं और उनकी फुटेज की निगरानी के लिए नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं। पुलिस अधिकारी अहम स्थानों पर कड़ी नजर बनाए हुए हैं।सभी बाजारों में सतर्कता बरती जा रही है। दिल्ली पुलिस दल सुरक्षा ऑडिट कर रही है। मुख्य बाजारों में पुलिस ने खोजी कुत्तों को भी तैनात किया है।अधिकारी ने बताया कि पुलिस कर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं।पूरे मध्य एवं नयी दिल्ली क्षेत्र में दिल्ली पुलिस तथा केंद्रीय सुरक्षा बलों के करीब 50,000 जवानों को तैनात किया गया है। इलाके में बहु-स्तरीय सुरक्षा तैनात की गई है। अर्द्धसैनिक तथा एनएसजी कमांडो के साथ दिल्ली पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।आज आसियान शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के बाद, आसियान नेता कल गणतंत्र दिवस परेड पर मुख्य अतिथि होंगे।
दक्षिण पूर्व एशियाई राष्ट्र संघ (आसियान) एक बहुपक्षीय संघ है। इसमें थाईलैंड, इंडोनेशिया, सिंगापुर, ब्रुनेई, लाओस, म्यामां, कंबोडिया, मलेशिया, फिलीपींस और वियतनाम शामिल हैं।

No comments:

Post a Comment