Tuesday, January 16, 2018

अब आधार कार्ड की सिक्योरिटी होगी और मजबूत जाने कैसे

तमाम सेवाओं के लिए अनिवार्य होने के बाद अब आधार कार्ड की सिक्यूरिटी को और मजबूत किया जा रहा है। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने अब आधार का नया सिक्यूरिटी फीचर जारी किया है जिसमें फिंगरप्रिंट और आंख की पुतलियों के अलावा चेहरे को भी पहचान का आधार बनाया जाएगा।
प्राधिकरण ने जानकारी दी है कि सुरक्षा का यह नया फीचर इसी साल जुलाई से शुरू किया जाएगा। सोमवार को एक नोटिफिकेशन जारी करते हुए पहचान प्राधिकरण ने कहा है कि अब जब आधार कार्ड बनाया जाएगा तो नामांकन कराने वाले शख्स के चेहरे की भी फोटो ली जाएगी। यह फोटो में आधार में जुड़ने वाले विशेष फीचर से व्यक्ति को पहचानने में मदद करेगी।इससे फीचर से लोगों की पहचान करने में आसानी होगी। साथ कहा जा रहा है कि जुलाई से नया आधार कार्ड बनवाने वाले को यह विकल्प होगा कि यदि उसकी आखों या अंगुलियों में कोई दिक्कत है और वह इनकी बजाए अपने चेहरे का वेरीफिकेशन फोटो क्लिक कराए। जानकारी में कहा गया है कि जिसने पहले आधार बनवाया है और डाटाबेस में उनकी फोटो मौजूद उन्हें दोबारा से चेहरे की फोटों खिंचाने की जरूरत नहीं है। साथ पहले से आधार रजिस्ट्रेशन का काम जिस सिस्टम में पहले से चल रहा था में उसमें किसी प्रकार के हार्डवेयर चेंज करने की जरूरत नहीं होगी। बल्कि चेहरा अब पहचान का अतिरिक्त आधार बनेगा। अब तक 12 अंकों वाला आधार नंबर 117 करोड़ लोगों को जारी किया जा चुका है। हालांकि आधार का इस्तेमाल पहचान साबित करने के लिए होता है, लेकिन इसे नागरिकता का सबूत नहीं माना जा सकता। आधार के आधार पर लोगों को रसोई गैस पर सब्सिडी और विभिन्न योजनाओं में सरकारी मदद दी जाती है।

No comments:

Post a Comment