Wednesday, January 31, 2018

शराब के नशे ने ली अपने ही भाई की जान

गाजीपुर शराब के नशे में धुत शराबी युवक ने मामूली कहा सुनी के बाद सोमवार की रात अपने सगे बड़े भाई की चाकू गोदकर कर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद हत्यारा रात में ही फरार हो गया। यह घटना जमानियां थाना क्षेत्र के बेटाबर गांव में सोमवार की रात लगभग दस बजे घटी थी।मृतक अजय तिवारी 35 वर्ष पुत्र मैनेजर तिवारी की पत्नी गीता तिवारी की नामजद तहरीर पर कोतवाली में हत्यारे भाई विजय तिवारी पर मुकदमा दर्ज किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इनके पिता मैनेजर तिवारी पीएसी के आरक्षी पद से सेवानिवृत्त हुए थे और कुछ दिनों बाद ही उनकी मृत्यु हो गयी थी। पिता की मृत्यु के उपरांत ही दोनों भाईयों में बंटवारा हो गया था। अजय अपनी मां के साथ रहता था। दोनों भाई शराब के आदी रहे हैं। शराब पीकर आये दिन आपस में मामूली बातों को लेकर भी झगड़ा करते रहते थे। उनकी इन आदतों से परिजन भी परेशान थे। परिजनोंके लिए उनकी तू-तू, मैं-मैं और मारपीट रोजमर्रा की बात हो गई थी। कल रात में भी वह दोनों शराब के नशे में झगड़ा करने लगे। उनके आये दिन की इस हरकत से तंग परिजन उन्हें आपस में झगड़ता छोड़ सोने चले गए। उसी विवाद के दरम्यान विजय ने बड़े भाई अजय पर छूरा का घातक प्रहार कर दिया। छूरा पेट में घुसता हुआ रीढ़ तक जा पहुंचा। घायल अजय की चित्कार सुनने के बाद भी परिजन बाहर नहीं निकले, वे मान रहे थे कि यह तो आये दिन का किस्सा है और थोड़ी देर बाद दोनों स्वयं शान्त हो जायेंगे। इधर बड़े भाई को छूरा मारने के बाद विजय मौके से भाग निकला। परिजनों को इस घटना की जानकारी प्रातः सोकर उठने पर हुई। परिजन मृत अवस्था में पड़े अजय को देख सन्न रह गये और घर में कोहराम मच गया। घटना की सूचना पर इलाकाई पुलिस मौके पर पहुंच आवश्यक कार्यवाही में जूट गयी।कोतवाल जमानियां राजाराम ने बताया कि फरार अभियुक्त की तलाश हो रही हैऔर उसे शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

No comments:

Post a Comment