Friday, February 2, 2018

जब बेटी ने बताई बाप की प्रेम कहानी की दास्तान

झारखंड के  जयप्रभा नगर में मंगलवार को हुई महिला की हत्या मामले में उसकी बड़ी बेटी ने अपने पिता के खिलाफ कई खुलासे किए हैं।* 
बेटी के अनुसार 'पापा खुद गलत थे और मां को गलत ठहराते हुए मारपीट करते थे। उनका एक पुलिस आंटी के साथ संबंध थे और उनके साथ पार्टनरशिप में एक दुकान भी है।' बताते चलें लड़की की मां की डेड बॉडी दो पार्ट में घर दीवान में बंद मिली थी। तब से उसका पति फरार है।पुलिस को आरोपी की बड़ी बेटी कृति ने बताया कि 'सोमवार को भी पापा ने मां के साथ मारपीट की थी और मां का पक्ष लेने पर मुझे भी मारा था।''मम्मी पापा में हमेशा झगड़ा होता रहता था जिसके कारण उसकी मां मायके (रांची) चली जाती थीं और ऐसा बीते चार-पांच सालों से होता आ रहा था।विनोद पाठक की बेटियों ने पुलिस को जानकारी दी है कि उसके पिता का संबंध किसी अन्य महिला से थे। उनके अनुसार महिला पुलिस डिपार्टमेंट में काम करती है।''जिस महिला के साथ विनोद पाठक के अफेयर की बात सामने आई है, उस महिला के बारे में पुलिस पूरी जानकारी ले रही है।पुलिस के अनुसार, बच्चों से मिली जानकारी के आधार पर हत्या का कारण लव अफेयर व संदेह को लेकर घटना होने का मामला लगता है। घटना की तहकीकात की जा रही है बहुत जल्द हत्यारा गिरफ्त में होगा।आरोपी विनोद बड़कागांव स्थित सीएमपीडीआई कैंप कार्यालय में सहायक के रूप में कार्यरत है। वो रेंट के घर में पिछले 5 सालों से अपनी पत्नी अनु पाठक, दो बेटी और एक बेटे के साथ रह रहा था।मंगलवार को वो थाने पहुंचा था। उसने पत्नी की गुमशुदगी की शिकायत की। इस पर थाना प्रभारी ने उससे लिखित आवेदन मांगा। वह वहीं बैठ कर आवेदन लिख रहा था तभी थानेदार के मोबाइल पर उसकी बड़ी बेटी कृति का फोन आया। कृति ने मां के लापता होने का संदेह जताते हुए बताया कि पापा ने ही मेरी मां के साथ कुछ कर दिया है। पुलिस मौके पर पहुंची तो दीवान के अंदर से लाश बरामद की गई। इसी बीच विनोद मौके से फरार हो गया। पुलिस ने वो चाकू भी बरामद कर लिया है, जिससे अनु की हत्या की गई है। अनु रांची कांके की रहने वाली थी।

No comments:

Post a Comment