Thursday, March 22, 2018

प्याज की सरकारी खरीद की मांग बढ़ी सौंपा गया ज्ञापन

सीकर। जिले के हजारों किसान ने गुरुवार को कृषि उपज मंडी में सभा कर प्याज की सरकारी खरीद मांग की। ज्ञापन में कहा गया कि सीकर जिला उत्तरी भारत का सर्वाधिक मीठा प्याज उत्पादन वाला जिला है। इस समय किसानों का प्याज मंडी में 3 से 5 प्रति किलो बिक रहा है, जबकि 15 दिन पहले प्याज के भाव 15 रुपए किलो था। इस प्रकार प्याज के भाव में भारी गिरावट से किसानों को लागत मूल्य भी नहीं मिल रहा है। प्याज की लागत किसानों के 8 रुपये प्रति किलो है, जिसके कारण किसान कर्जदार हो रहा है। किसानों को कर्ज से बचाने के लिए प्याज की बाजार हस्तक्षेप योजना के अंतर्गत 10 रुपये प्रति किलो के हिसाब से सरकारी खरीद की जाए। इस योजना में पहले भी खरीद की जा चुकी है। प्याज का न्यूनतम समर्थन मूल्य लागत में 50% जोड़कर घोषित किया जाए। रवि फसल की जिंसों,चना व जौ कि समर्थन मूल्य पर चालू की जाए, खरीद केंद्रों पर शीध्र तुलाई की व्यवस्था की जाए।

No comments:

Post a Comment