Wednesday, April 18, 2018

बिना कैश कैसे जनता करे ऐस आदर्श दुबे की रिपोर्ट

कुशीनगर से आदर्श दुबे की रिपोर्ट
आज प्रत्येक व्यक्ति को पैसे की जरुरत है सभी लोग अपनी कमाई बैंक में रखते है ताकि उनका पैसा सुरक्षित रहे और जरुरत पड़ने पर उस पैसे का उपयोग कर सके।लेकिन पिछले साल नवंबर माह से ही लोगो को उनका पैसा प्राप्त करने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।कभी शाखा पर बैलेंस नहीं होता तो कभी एटीएम में रूपये नहीं होते ऐसे में बेचारी जनता कैसे अपनी रोजमर्जा के सामानों को ख़रीदे और अपना परिवार चलाये।आप को बताने दे की नोटबन्दी के बाद से जिले में लगभग 15  एटीएम मशीन से ही पैसा मिलता था,लेकिन लगभग तीन दिन से जिले के कुछ एटीएम में ही कैश है जो ख़त्म होने के कगार है जिससे जनता बेहाल है,जनता इसे दूसरी नोटबंदी भी कह रही हैं।कैश न होने की वजह से किसान अपनी खेती की चीजें नहीं खरीद सकता,तो खेती कैसे होगी।जिन घरों में लड़की की शादी है वो कैसे सम्पन होगी ।
जिले के पडरौना,कुशीनगर,कसया,हाटा, कप्तानगंज सहित सभी कस्बो का यही हाल है इन कस्बो के आसापास की जनता रुपयो के लिए हाय हाय कर रही हैं।क्या ये दिन देखने के लिए ही लोगों ने अपनी खून पसीने की कमाई बैंको में जमा की
थी ।अब देखना होगा की बैंक कब तक  कैश उपलब्ध कराते है जिससे इनके दर्द दूर हो सके।

No comments:

Post a Comment