Friday, April 6, 2018

दहेज लोभयो के एक और कारनामा विवाहिता को

शाहजहांपुर। कोतवाली थाना क्षेत्र के बृजबिहार कॉलोनी निवासी शिल्पी गुप्ता ने कोतवाली थाने में अपने ससुरालियों पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस अधीक्षक को दिए प्रार्थना पत्र में पीड़ित शिल्पी गुप्ता ने बताया कि उसका विवाह हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार जलालाबाद थाना क्षेत्र के मोहल्ला महाजानान निवासी गौरव उर्फ सोनू के साथ 5 मई 2011 को हुआ था। पीड़िता ने बताया कि उसके चाचा व भाई ने भरपूर दान दहेज दिया था। विवाह के कुछ बर्ष बीतने के बाद ससुरालियों ने पांच लाख रुपये दहेज में देने की मांग करने लगे। दहेज न मिलने के कारण ससुरालीजन विवाहिता शिल्पी को परेशान करने लगे। तथा उसको भूखा रखकर कमरे में बंद करके उत्पीड़न करना शुरू कर दिया। जब पीड़िता ने उत्पीड़न की घटना अपने भाई व चाचा को बताई तो उन्होंने अपनी नई कार यूपी 27 आर 6546 व एक लाख नगद रुपया ससुरालीजन को दे दिया। लेकिन दहेज लोभियों का इतने में पेट नही भरा तो उन्होंने व्यापार करने क्व लिए पांच लाख रुपये की और मांग कर दी। इसी क्रम में 23 जून 2016 को विवाहिता शिल्पी गुप्ता को उसकी सास शोभा गुप्ता,पति गौरव गुप्ता,अनिल गुप्ता,सौरभ गुप्ता,अभषेक गुप्ता,हिमांशु गुप्ता,प्रिया गुप्ता ने जबरदस्ती पकड़ कर मारने पीटने लगे और जान से मारने की नीयत से मिट्टी का तेल ऊपर से डाल दिया। जब पीड़िता ने अपने छोटे बच्चे का वास्ता दिया तो ससुरालियों ने धक्का मारकर घर से निकाल दिया। पुलिस ने समस्त ससुरालियों पर दहेज अधिनियम के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

No comments:

Post a Comment