Saturday, April 21, 2018

बच्ची की चीख सुनकर पहुंचे दादाजी वहां का नजारा देखकर उडगये होस

गाजियाबाद। कोतवाली थानाक्षेत्र के एक इलाके में एक वहशी दरिंदे ने सातवीं कक्षा कि किशोरी को अपनी हवस का शिकार बनाने का प्रयास किया है। किशोरी ने बताया कि अकेला पाकर अफसर उसे डरा-धमकाकर उसके साथ अश्लील हरकते कर रहा था। चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक इमाम जैदी ने जानकारी दी कि पीड़ित किशोरी के घर अफसर पानी लेने के बहाने अक्सर आता-जाता था। इस हरकत से ऐसा लगता है कि अफसर उपरोक्त किशोरी पर गंदी नज़र भी रखता था। अफसर उपरोक्त किशोरी के घर से भरे पानी का सेवन अपने फलों को तरोताज़ा रखने के लिए करता था। चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक इमाम जैदी ने पीड़ित पक्ष से मालूमात करने के बाद बताया कि मामला बुधवार दोपहर एक 1 बजे के लगभग का है। जब अफसर किशोरी के घर पानी लेने गया था। अफसर ने देखा कि घर पर किशोरी अकेली है और उसके माता-पिता व परिवार वाले घर से कहीं बाहर गए हुए हैं। तभी वहशी दरिंदे अफसर ने मौके का फायदा उठाकर किशोरी को दबोच लिया। अफसर किशोरी को अपनी हवस का शिकार बनाने का प्रयास करने लगा। अफसर कि दरिंदगी के चलते किशोरी चीखने-चिल्लाने लगी। इतने में चीख-पुकार सुनकर अचानक किशोरी के दादाजी जी मौके पर पहुंच गए। किशोरी के दादा जी को देखकर उपरोक्त अफसर वहां से फरार हो गया। किशोरी के पिता को पता चलने पर उन्होंने अफसर के विरुद्ध केला भट्टा चौकी पर तहरीर दी। उन्होंने केला भट्टा चौकी प्रभारी इमाम जैदी को बताया कि जिस वक्त यह सब हुआ है, उस समय मेरी पत्नी बाजार सामान खरीदने गई हुई थी और मैं अपने AC के काम से बाहर गया हुआ था मेरी बेटी घर पर अकेली थी। पीड़ित किशोरी के परिवार द्वारा मिली तहरीर के आधार पर चौकी प्रभारी इमाम जैदी व उनकी टीम कि महिला उपनिरीक्षक एकता पवार, सिपाही रवि कुमार ने आरोपी अफसर कि तलाश तत्काल शुरू कर आरोपी अफसर को मात्र 1 घंटे में गौशाला फाटक के पास से गिरफ्तार कर लिया।

No comments:

Post a Comment