Thursday, May 10, 2018

गोरखपुर के सहजनवा में एक लुटेरा धरा गया दो फरार

आदर्श दुबे की रिपोर्ट
  सहजनवां थानाक्षेत्र में आज शाम करीब पौने सात बजे 25 हजार की लूट हो गई। बताया जा रहा है कि एडीएस कंपनी के दो कर्मचारी वसूली कर गोरखपुर वापस आ रहे थे। इसी बीच उनसे एक युवक ने लिफ्ट मांगा। कर्मचारियों ने उसे बैठा लिया। कुछ दूर आगे बढऩे पर जाल्हेपार के पास उसने बाइक रोकने का इशारा किया। तब तक उसके दो साथी भी वहां आ धमके। तीनों ने मिलकर कर्मचारियों के साथ मारपीट शुरू कर दी। इसमें से दो लुटेरे रुपये लेकर फरार हो गए। कर्मचारियों ने हिम्मत दिखाई और दौड़ाकर एक लुटेरे को पकड़ लिया। इतने में वहां भीड़ इक_ी हो गई। पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने लुटेरे को हिरासत में ले लिया और थाने लाकर पूछताछ कर रही है। मजेदार यह है कि सुबह में रियलटी चेक के लिए सीओ सलेमपुर ने एसओ सहजनवां को उनके क्षेत्र में लूट होने की झूठी सूचना दी थी। ऐसा उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर किया था ताकि यह चेक किया जा सके कि पुलिस क्षेत्र में एक्टिव है या नहीं। लूट की सूचना पाते ही एसओ सहजनवां मौके पर पहुंच गये थे। लेकिन शाम होते-होते उनके क्षेत्र में सही में लूट की वारदात हो गई। बता दें कि खलीलाबाद के बड़ी सरौली के रहने वाले नसीम अख्तर व आनन्द पुत्र अर्जुन आल लाइन सामान एवं हीरो फि न क्राफ के लोन पर ली गई गाडिय़ों की वसूली करते हंै। आज वह जाल्हेपार से किस्त के 25 हजार रुपये वसूली कर गांव के बाहर निकले ही थे कि एक युवक ने हाथ देकर रोका और बाइक पर लिफ्ट लेकर कुछ दूर चलने की बात की। बाइक कुछ ही दूर गई थी कि दो युवक और मिल गए। तीनों ने मिलकर एजेंट कर्मचारियों से मारपीट की और किस्त के 25 हजार रुपये लूट लिये। हिम्मत कर कंपनी के दोनों कर्मचारियों ने भाग रहे तीनों बदमाशों में से एक को दबोच लिया। 100 नंबर पर सूचना देकर पुलिस बुलाई। इसके बाद पुलिस ने पकड़े गए युवक को हिरासत में ले लिया।

No comments:

Post a Comment