Saturday, May 12, 2018

यूपी अखिलेश यादव से मिले नरेंद्र के परिजन मिली पांच लाख की मदत

मेरठ : नरेंद्र को गलत तरीके से जेल में भेजकर मौत के मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से सपा नेता अतुल प्रधान ने नरेंद्र के परिजनों से लखनऊ में मुलाकात कराई। अखिलेश यादव ने पीड़ित परिवार को सात्वंना दी। इसी के साथ-साथ पीड़ित परिवार को पचास लाख रूपये मुआवजा, सरकारी नौकरी और आवास दिए जाने की मांग रखी। अखिलेश यादव ने सपा की तरफ से पचास हजार रूपये कैश, पांच लाख रूपये का डिमांड ड्राफ्ट (डीडी) देने की बात कही है। आज सपा नेता परिजनों के घर पहुंचकर डीडी सौपेंगे। भाई जितेंद्र को ई रिक्शा भी दी जा रही है।मवाना पुलिस ने कुछ दिन पूर्व नरेंद्र और उनके तीन साथियों को गौकशी के आरोप में जेल भेज दिया गया था। आरोप है कि नरेंद्र को मवाना थाने में थर्ड डिग्री दी गई थी। दो दिन बाद ही नरेंद्र की जेल में मौत हो गई थी। परिजनों ने आरोप लगाया था कि पुलिस ने फर्जी मुकदमा कायम कर नरेंद्र को जेल भेजा था। इस मामले में थानेदार समेत तीन पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई भी की गई थी। इसी मामले में नरेंद्र के साथ जेल गए तीनो लोगों पर गौकशी की धाराएं हटाते हुए रिहा कर दिया गया था।
परिजन लगातार आमरण अनशन कर रहे है। परिजनों की मांग है कि आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा कायम करते हुए मुकदमा एक्सपंज किया जाए। सरकारी नौकरी, पचास लाख रूपये और सरकारी आवास दिया जाए। परिजनों की मांग अभी तक पूरी नहीं हुई है। सपा नेता अतुल प्रधान लगातार परिजनों की आवाज बुलंद कर रहे है। अतुल प्रधान ने सपा के राष्ट्रीय अखिलेश यादव से गुरुवार को नरेंद्र के परिजनों की मुलाकात कराई।अतुल प्रधान के मुताबिक सपा की तरफ से पचास हजार रूपये नकद परिजनों को दिए गए है जबकि पांच लाख रूपये डीमांड ड्राफ्ट (डीडी)अखिलेश यादव द्वारा पार्टी की तरफ से दिया जा रहा है। जिसको आज हम परिजनों को घर जाकर सौपेंगे। अखिलेश यादव ने आश्वासन दिया है कि यदि योगी सरकार नौकरी नहीं देती है तो अपनी सपा सरकार आने पर परिजनों को नौकरी दी जाएगी। नरेंद्र के भाई जितेंद्र को ई-रिक्शा देने की भी घोषणा की। सपा ने परिजनों को थोड़ी राहत जरूर दे दी है। इस दौरान अतुल प्रधान, महानगर अध्यक्ष आदिल चौधरी, गुड्डू चौधरी, विपिन मनोठिया आदि मौजूद रहें।

No comments:

Post a Comment