Tuesday, May 15, 2018

नारी का सम्मान करो मत इसका अपमान करो-अरविंद सागर

आज ऐसे तमाम मिसाल है की जहा बहन बेटियों की इज्जत लुटी जाती है और लोग तमाशबीन बनकर देख रहे होते है जबकि बहन बेटियों की आबरू बचाने हेतु कोशिश तक नही किया जाता है शर्म आनी चाहिए ऐसे इंसानो पर  और तब हम इच्छा रखते है की हमे पयार मिलता क्यो नही समाज मे इज्जत मिलता क्यो नही, आज की जनरेशन इतनी आगे निकल चुकी है की दूसरो की बहन बेटियों की दर्द समझने और महसूस करने की फुर्सत तक ही नही है आप लोगो ने अनेको ऐसे विडियो देखें होगें जहा किसी बहन बेटी को प्रताड़ित किया जाता हो और लोग तमाशबीन बनकर देख रहे होते है आखिर यह सब हो क्या गया है हमारी इस जनरेशन को, खुन खौलता क्यो नही, हम लोग इतने खुदगर्ज कैसे हो सकते है क्या हमारी आपकी जिम्मेदारी नही बनती है अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाना? *क्या सिर्फ कानून और कुछ संगठन ही इस जिम्मेदारी को आगे लेकर चलेगें? हम लोगो का भी तो कुछ फर्ज बनता है न? अभी ताजा खबर के मुताबिक कुशीनगर मे हुई 18 वर्षीय बच्ची की निर्मम हत्याकांड को ही ले लिया जाए तो जिम्मेदार कौन है? मेरे ख्याल से उसकी जिम्मेदार हम और आप है क्यो की वह मसला जनता के बीच आ चुका था फिर भी ग्रामीण और जिम्मेदार लोगो द्वारा मामले को दबा दिया गया आखिर कयो? अगर समय रहते उसी वक्त कार्यवाई हुई होती तो आज बच्ची जिंदा होती जबकि हम सिर्फ प्रशासन को ही दोषारोपण करते है , आखिर क्यो? पहले हमे अपने आप को बदलना होगा, आखिर जब यह निर्मम हत्या हो रही थी जब भी कुछ पड़ोसी और कुछ लोग तमाशबीन बनकर देख रहे होगें न उस समय भी जान बचाई जा सकती थी* लेकीन कोई भी व्यक्ति सामने नही आया आखिर क्यो? फिर हम प्रशासन को दोष देते है हम जब अपने आप को सुरक्षित नही कर सकते तो मेरे ख्याल से प्रशासन को दोषारोपण करना बंद कर देना चाहिए, खुद कुछ कर नही सकते और बार बार सवाल खड़ा करना चाहते है, आखिर ऐसा कयो? हमे सबसे पहले आपने आप को सुरक्षित करना होगा और हमारे आपके सामने हो रहे जुर्म के खिलाफ आवाज उठाना होगा जब जाकर हमारी और आपकी ताकत दिख सकती है, *नही तो ऐसे ही कुछ असमाजिकतत्व हमारे समाज को गंदा करते रहेगें, और हम और आप तमाशबीन बनकर देखते ही रहेगें तो *आईये सोच बदलें देश जरूर बदलेगा, हम इज्जत कमायें आबरू बचायें प्यार अवश्य मिलेगा। जय हिंद जय भारत*

          ✍
अरविंद कुमार सागर
सामाजिक कार्यकर्ता
कुशीनगर उत्तर प्रदेश

1 comment:

  1. बहूत बहूत धन्यवाद और आभार भैया जी सम्मान देने के लिए

    ReplyDelete