Friday, July 20, 2018

विकास कार्यों की बैठक में बिना सूचना अधिकारी नदारद

गोन्डा ब्यूरो पवन कुमार द्विवेदी
विकास कार्यों की मझडलीय समीक्षा से बिना सूचना नदारद रहने पर अधीक्षण अभियन्ता प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से स्पष्टीकरण तलब करने के साथ ही देवीपाटन मण्डल अन्तर्गत प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनी सभी सड़कों की जांच रिपोर्ट सभी जनपदों के मुख्य विकास अधिकारी एक सप्ताह के अन्दर दें। खराब व मानक विहीन सड़कें मिलने पर सम्बन्धित जिले के एक्सईएन के खिलाफ कार्यवाही हेतु उनके माध्यम से शासन को पत्र भेजवाएं। इसके अलावा मण्डल में जनपद गोण्डा व श्रावस्ती में स्वच्छ भारत मिशन के तहत ओडीएफ की स्थिति संतोाजनक न मिलने पर डीडी पंचायत को फटकार लगाते हुए सुधार लाने की चेतावनी दी है। यह चेतावनी आयुक्त देवीपाटन मण्डल सुधेश कुमार ओझा ने आयुक्त सभागार में आयोजित विकास कार्यों की मण्डलीय समीक्षा में दी है।आगंनवाड़ी केन्द्रों के निर्माण में मानक का उल्लंघन कर घ्टिया निर्माण कराने के कारण जनपद बहराइच के अधिशासी अभियन्ता आरईडी के  खिलाफ तथा ठेकेदार की फर्म को ब्लैकलिस्ट किए जाने के आदेश दिए गए है। इसके अतिरिक्त विकास कार्यों की रैंिकंग में पीदे रहने वाले विभागों के अधिकारियों को विकास कार्यों में तेजी लाने के आदेश दिए गए हैं। यह आदेश आयुक्त सभागार में आयोजित विकास कार्यों की मण्डलीय समीक्षा में आयुक्त देवीपाटन मण्डल सुधेश ओझा ने दिए हैं। विकास कार्यक्रमों की मण्डलीय समीक्षा के दौरान आयुक्त ने प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना के तहत बनी सड़कों की खराब स्थिति व ठेकेदारों द्वारा मेन्टीनेन्स न किए जाने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए ऐसे ठेकेदारों की फर्मों को काली सूची में डालने के आदेश दिए है। आयुक्त ने चारों जनपदों के सीडीओ को निर्देश दिए हैं कि वे क सप्ताह के अन्दर पीएमजीएसवाई की सड़कों की जांच स्वयं करके उकी स्थिति की रिपोर्ट उन्हें और दोषी अधिकारियों व ठेकेदारों के खिलाफ कार्यवाही करें। निर्माण कार्यों की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने सभी कार्यदाई संस्थाओं को सख्त निर्देश दिए हैं कि निर्धारित समय सीमा के अन्दर सभी निर्माण कार्य पूरा कराएं अन्यथा जिम्मेदारी फिक्स करते हुए कार्यवाही की जाएगी। उन्होने सभी कार्यदाई संस्थाओं के अधिकारियों को स्पष्ट चेतावनी दी कि निर्माण कार्यों में मानक का उल्लंघन करने पर कठोर कार्यवाही के लिए तैयार रहें। ओडीएफ की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने डीडी पंचायतीराज को फटकार लगाते हुए ओडीएफ के झूठे आंकड़े न देने की चेतावनी दी। ज्ञात हुआ कि जनपद श्रावस्ती में मण्डलीय सत्यापन के भेजे गए गांवों कासत्यापन करने पर एक भी गांव ओडीएफ हेतु मानक पर खतरा नहीं पाया गया। इसी प्रकार गोण्डा में स्वच्छ भारत मिशन के लिए प्राप्त 84 करोड़ रूपए के सपेक्ष 80 प्रतिशत व्यय किया गया परन्तु व्यय व प्राप्त धन के सापेक्ष कार्य नहीं हुआ।  आवास योजनाओं की जियो टैगिंग व प्रथम किस्त 25 जुलाई तक निर्गत करने के आदेश दिए हैं। स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने सभी अस्पतालों में ओआरएस घोल व दवाओें की पर्याप्त मात्रा सुनिश्चित कराने के निर्देश एडी हेल्थ को दिए हैं। मनरेगा की खराब स्थिति पर भी आयुक्त ने असंतोष व्यक्त करते हुए सभी डीएम व सीडीओ को व्यक्तिगत मानीटरिंग करने के निर्देश दिए हैं। विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने विद्युत विभाग के अधिकारियों द्वारा फोन न उठाने की शिकायत का संज्ञान लेते हुए सख्त चेतावनी दी कि फोन न उठाने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जाय और जनता की शिकायतों का समाधान किया जायें। डीएम गोण्डा द्वारा नलकूप विभाग के 67 नलकूप विद्युत दोष व 47 नलकूप यांत्रिक दोष के कारण खराब होने की शिकायत की जिस आयुक्त ने अधीक्षण अभियन्ता नलकूप को तीन दिन की मोहलत देते हुए सभी नलकूप दुरूस्त कराकर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा आयुक्त ने प्रधानमंत्री आवास, मनरेगा, शादी अनुदान, स्वच्छ भारत मिशन, पेयजल योजनाओं, दीन दयाल ग्राम ज्योति योजना, सेतु निर्माण, आंगनबाड़ी केन्द्रों का निर्माण, बेसिक शिक्षा, लाभार्थीपरक योजना, खाद्य सुरक्षा, अपशिष्ट प्रबन्धन, पारदर्शी किसान योजना, फसली ऋण मोचन, प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना, कार्यक्रम विभाग, ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस, कुपोषण मुक्ति, ई-टेन्डरिंग, अवैध खनन, नहरों की सफाई  सहित अन्य विभागों की जनपदवार समीक्षा की। बैठक में डीएम गोण्डा कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव, डीएम बहराइच माला श्रीवास्तव, डीएम श्रावस्ती दीपक मीणा, डीएम बलरामपुर कृृष्णा करूणेश, सीडीओ बहराइच, बलरामपुर व श्रावस्ती,  संयुक्त विकास आयुक्त देवीपाटन मण्डल वी0के पाठक, अपर निदेशक स्वास्थ देवीपाटन मण्डल डा0 सतीश कुमार, चीफ इन्जीनियर विद्युत, अधीक्षण अभिन्ता पीडब्लूडी, नलकूप, जिला समाज कल्याण अधिकारी अंजनी वर्मा, जिला गन्ना अधिकारी ओपी सिंह सहित अन्य मण्डलीय अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment