Friday, July 13, 2018

आठवें दिन भी श्रमिक नेताओं की हड़ताल क्रमिक अनशन में बदली

पीतमपुर में प्रतिभा सिंटेक्स कंपनी के मजदूरों का 1 जुलाई से चल रहा आंदोलन आज आठवें दिन में प्रवेश कर गया यहां पर 6 मजदूर और श्रमिक नेता एडवोकेट विजय शर्मा भूख हड़ताल कर रहे हैं 1 जुलाई से चल रही है भूख हड़ताल आज आठवें दिन भी जारी थी इस आंदोलन का समर्थन करने के लिए किसान संघर्ष समिति के कार्यकारी अध्यक्ष,जनांदोलनों का राष्ट्रीय समन्वय के राष्ट्रीय संयोजक और पूर्व विधायक डॉक्टर सुनीलम पीतमपुर पहुंचे थे आपके साथ सोशलिस्ट पार्टी के प्रांतीय अध्यक्ष रामस्वरूप मंत्री भी पीतमपुर पहुंचे थे आंदोलन स्थल पर हजारों की तादाद में प्रतिभा सिंटेक्स के मजदूर उपस्थित थे इस सभा को संबोधित करते हुए डॉक्टर सुनीलम ने कहा कि यह आंदोलन संवैधानिक और श्रम  अधिकारों को लागू कराने  का आंदोलन है ट्रेड यूनियन मूवमेंट ने अडानी अंबानी ,टाटा ,बिरला और तमाम उद्योगपतियों  से  आंदोलनकारियों ने जीत हासिल की है यदि आप एकजुटता के साथ इस आंदोलन को जारी रखेंगे तो निश्चित रूप से आप को जीत हासिल होगी आपने मजदूरों से और यूनियन से अपील की कि वह इस आंदोलन को पूरे पीथमपुर  का आंदोलन बनाकर इंदौर और भोपाल तक ले जाए आपको न्याय मिलेगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने संवाद की जगह दमन का रास्ता अपनाया तो इसका भारी नुकसान शिवराज सिंह को झेलना पड़ेगा ।
डॉ सुनीलम ने श्रमिकों के आंदोलन को पीथमपुर में रहकर समर्थन करने के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए  कहा कि आंदोलन को गति देने के लिए वह 16 17 18 जुलाई को पीथमपुर में रहेंगे और इस आंदोलन को तेज करने की कोशिश करेंगे ताकि श्रमिकों को न्याय मिल सके ।उन्होंने आंदोलन के समर्थन करने वाले 8 श्रमिक संगठनों को एकजुट होकर संघर्ष करने के लिए बधाई देते हुए हिन्द मज़दूर  सभा के राष्ट्रीय महामंत्री हरभजन सिंह सिद्धू जी की ओर से आंदोलन को समर्थन की घोषणा की ।  सोशलिस्ट  पार्टी के प्रांतीय अध्यक्ष राम स्वरूप मंत्री ने भी संबोधित किया।सभा को सैंचुरी मिल के नेता ने भी संबोधित करते हुए कहा कि हमारे आंदोलन को मेधा पाटकर के संघर्षशील नेत्रत्व ने जीत में बदला है आपको भी उनका व डा सुनीलम का समर्थन मिला है जो निश्चित जीत दिलाएगा।

पीथमपुर से प्रतिभा सिंटेक्स कंपनी के पांचो प्लांटों में कार्यरत आठ हजार से ज्यादा मजदूर और कर्मचारी मैनेजमेंट की मनमानी और हठधर्मी के खिलाफ 1 जुलाई से आंदोलन की राह पर है ।उचित वेतन नहीं मिलने पर जब श्रमिक अपने यूनियन के माध्यम से प्रबंधन से बात करने के लिए गए तो प्रबंधन ने 76 से ज्यादा मजदूरों को काम से बंद कर दिया और सैकड़ों मजदूरों की पंचिंग रोक दी । जिसके खिलाफ श्रमिकों ने हड़ताल शुरू कर दी है और श्रमिकों के नेता विजय शर्मा, विष्णु प्रसाद, गीता पटेल एवं सविता पटेल ,सूर्यकांत और नकुल सूर्यवंशी एक जुलाई से फैक्ट्री के गेट पर भूख हड़ताल कर रहे साथियों की हालत लगातार बिगड़ रही थी।जिस पर पूर्वविधायक डा सुनीलम  के आग्रह पर आदोलनकारी मजदूरों ने  अनिश्चितकालीन  अनशन को क्रमिक अनशन में बदलने के प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार किया ।
भूख हड़ताल पर बैठे मजदूर साथियों ने प्रस्ताव पर  विचार कर निर्णय लिया कि अब इस आंदोलन को क्रमिक भूख हड़ताल आंदोलन के रूप में चलाया जाएगा इस निर्णय के बाद 18 नए साथियों ने आज से भूख हड़ताल शुरू की ।
1 जुलाई से भूख हड़ताल कर रहे साथियों के अनशन को  जूस पिलाकर डॉक्टर सुनीलम एडवोकेट नागर एवं रामस्वरूप मंत्री ने समाप्त करवाया।
डॉ सुनीलम के साथ सोशलिस्ट पार्टी इंडिया के महासचिव  दिनेश कुशवाह ,स पा जिला अध्यक्ष उमाकांत मिस्र ,धुरंदर यादव अनशन स्थल पर पहुंचे ।

रामस्वरूप मंत्री ,प्रदेश अध्यक्ष
9425902303

No comments:

Post a Comment