Saturday, July 28, 2018

बारिस बनी जान की दुश्मन मकान की छत गिरने से महिला की मौत

सरधना (मेरठ) लगातार चल रही बारिश के चलते छत गिरने से मलबे में दबकर महिला की मौत हो गयी। महिला की मौत के बाद उसके परिवार में मातम का माहौल है। हादसे में महिला की 6 पुत्रियां व एक पुत्र बाल बाल बचे है। इस घटना से गांव पिठलोकर में शोक की लहर है। भारी बारिश के चलते कब्रिस्तान भी पानी की चपेट में है शव दफनाने के लिए भी ग्रामीणों को भारी मशक्कत का सामना करना पड़ेगा। पिछले दो दिनों से चल रही बारिश ने घरों की छतों को कमजोर कर दिया है मिटटी से बनी छतो में पानी का इतना वजन हो चला है की उसकी कड़िया अब दम तोड़ने के कगार पर है। शुक्रवार की शाम लगभग साढ़े सात बजे गांव पिठलोकर निवासी वकील पुत्र अलीहसन अपनी पत्नी नन्ही व बच्चो के साथ अपने घर में था। उसी समय चैट गिरने से उसकी पत्नी नन्ही मलबे में डाब गयी चीख पुकार सुनकर दौड़े ग्रामीणों ने किसी तरह नन्ही को मलबे से बाहर निकाला और स्थानीय चिकित्सक को बुलाया जिसने उसे मृतक घोषित कर दिया। नन्ही की मौत के बाद उसके परिजनों में कोहराम मचा है। नन्ही अपने पीछे 6 पुत्रियां व एक पुत्र छोड़ गयी है। हादसे के दौरान उसका परिवार बाल बाल बचा है। 

No comments:

Post a Comment