Sunday, August 12, 2018

आप के मुख्यमंत्री उम्मीदवार आलोक अग्रवाल लड़ेंगे यहाँ से चुनाव

आलोक जी "नर्मदा बचाओ आंदोलन" के प्रमुख रहते हुए 28 वर्षों तक नर्मदा के विस्थापितों की जमीनी एवं कानूनी लड़ाई लड़े और इसी लड़ाई की वजह से वहां के लोगों को कई हजार करोड़ का मुआवजा मिल सका।आलोक जी ने विस्थापितों को उनका हक दिलाने के लिए 32 दिन तक विश्वप्रसिद्ध जलसत्याग्रह किया और उसमें उनकी जीत भी हुई।आलोक जी अपने पढ़ाई के दौरान ही कभी जॉब पर ध्यान नहीं दिए बल्कि वो पढ़ाई के दौरान ही संस्थान(IIT Kanpur) के आस-पास के गांव में जाकर बच्चों को पढ़ाते थे यहां तक कि आस-पास के 2-3 गांव के स्कूल व्यवस्था में सुधार लाने के लिए उन्होंने संघर्ष कर स्कूलों की स्थिति में बदलाव लाये।पढ़ाई पूरी होने के बाद आलोक जी जॉब करने के बजाय देश की स्थिति पता करने के लिए एक साल तक कई पिछड़े क्षेत्रों में जाकर भ्रमण भी किये। इसी दौरान उनका मध्यप्रदेश के निमाड़ क्षेत्र में चल रहे "नर्मदा बचाओ आंदोलन" में आना हुआ, यहां की भयावह स्थिति देखते हुए उन्होंने निश्चित किया कि वो 6 महीने अब इसी नर्मदा घाटी में अपना समय देंगे लेकिन जब उन्होंने नर्मदा विस्थापितों की लड़ाई शुरू की तो 6 महीने से कब 28 साल गुजर गए उन्हें आभास तक नहीं हुआ।28 साल की लड़ाई के बाद आलोक जी ने निश्चित किया कि प्रदेश में भ्रष्ट सरकार को जड़ से मिटाने के लिए अब राजनीति में उतरना ही पड़ेगा तब वो इस भ्रष्ट राजनीति से लड़ने के लिए आम आदमी पार्टी में शामिल हुए।आलोक जी को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी मिली और मध्यप्रदेश में आम आदमी पार्टी के संगठन निर्माण में आलोक जी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।
15 जुलाई को इंदौर में अरविंद केजरीवाल जी प्रदेश में चुनाव का बिगुल फूंकते हुए आलोक जी को मुख्यमंत्री चेहरा घोषित कर चुके हैंI
11 अगस्त को भोपाल में "आप" राज्यसभा सांसद सुशील गुप्ता जी ने घोषणा कि की आलोक जी भोपाल के दक्षिण-पश्चिम विधानसभा से चुनाव लड़ेंगे।

No comments:

Post a Comment