Monday, August 20, 2018

पूरे प्रदेश में फैले बुराई के इस जाल को तोड़ना आप का मकसद

सतना, 19 अगस्त। भाजपा और कांग्रेस को आम आदमी को सिर्फ लूटा है और इसी का परिणाम है कि हर आम आदमी आज परेशान है।
मध्य प्रदेश की बात करें तो यहां भ्रष्टाचार ही भ्रष्टाचार है। कोई काम बिना पैसे के नहीं होता। पटवारी से लेकर मुख्यमंत्री स्तर तक भ्रष्टाचार फैला हुआ है। यह बातें आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार आलोक अग्रवाल ने बदेरा मैहर में एक आमसभा को संबोधित करते हुए कहीं।
उन्होंने कहा कि आज भी मध्य प्रदेश के 43 लाख घरों में बिजली नहीं है, जिनके घरों में बिजली पहुंच रही है, वे अनाप-शनाप बिलों के कारण परेशान हैं। प्रदेश के 40 लाख परिवारों को पीने के पानी के लिए 1 किलोमीटर दूर जाना पड़ता है। अस्पतालों की बात करें तो प्रदेश में जरूरत के अनुपात में महज 50 प्रतिशत अस्पताल हैं, और जो हैं, उनमें भी आधे में ही डॉक्टर हैं। मध्य प्रदेश में 92 बच्चे रोज कुपोषण के कारण मर रहे हैं। शिक्षा व्यवस्था की बात करें तो सरकारी स्कूल बंद किए जा रहे हैं और प्राइवेट स्कूलों में फीस के नाम पर खुली लूट चल रही है। उन्होंने किसानों के दर्द के बारे में कहा कि किसान की फसल खराब हो जाए तो उसे सही मुआवजा नहीं मिलता है। न ही फसल का सही दाम मिलता है, इसके कारण किसान कर्ज में फंसकर आत्महत्या कर रहा है। प्रदेश में हर रोज पांच किसान आत्महत्या करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हालात इतने खराब हो गए हैं कि आम आदमी त्राहि-त्राहि कर रहा है। क्योंकि कांग्रेस और भाजपा की सरकारों ने आम आदमी को चूस डाला है, इसलिए बदलाव की जरूरत है। यह बदलाव लाने के लिए एक ईमानदार पार्टी चाहिए जो आम लोगों के लिए काम करे। उस पार्टी का नाम आम आदमी पार्टी है। उन्होंने एक नए नारे के साथ भाजपा और कांग्रेस पर वार करते हुए कहा कि भ्रष्ट भाजपा भ्रष्ट कांग्रेस आओ बदलें मध्य प्रदेश यह नारा मध्य प्रदेश के कोने-कोने तक पहुंचाने का काम आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को करना है और प्रदेश की जनता को एक ईमानदार सरकार का विकल्प देना है। इस मौके पर आम आदमी पार्टी के प्रदेश संगठन सचिव युवराज सिंह, मैहर विधानसभा के प्रत्याशी पुष्पेंद्र सिंह, आप युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष निशांत गंगवानी और सतना लोकसभा के प्रभारी शैलेंद्र खरे के साथ कई अन्य पदाधिकारी एवं सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment