Friday, October 5, 2018

बीजेपी के खिलाफ प्रचार में उतरेंगे डुप्लीकेट मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह दिखने वाले उनके समर्थक और भक्त अभिनंदन पाठक ने पीएम और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।उन्होंनेकहाहैकिआगामी लोकसभा चुनाव में वह कांग्रेस की ओर से बीजेपी के खिलाफ प्रचार करेंगे।आपको बता दें कि पाठक ने पूर्व में खुद को पीएम का छोटा भाई बताया था। बीते साल फरवरी में उन्होंने केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया से वाराणसी से पर्चा भरा था। साथ ही कहा था कि अगर बड़ा भाई पीएम है, तो वह भी सीएम बनेंगे।टीओआई’ के मुताबिक, बुधवार (तीन अक्टूबर) को लखनऊस्थित उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (यूपीसीसी) के मुख्यालय में उन्हें टहलता देख कांग्रेस के कार्यकर्ता भ्रमित हो गए। वे कुछ क्षणों के लिए पाठक को असल पीएम समझ बैठे। हालांकि, उन्हें बाद में इस बात का अंदाजा हो गया कि वह पीएम मोदी नहीं बल्कि उनके हमशक्ल हैं।कांग्रेस के एक कार्यकर्ता ने उस दौरान पाठक से पीएम के विदेशों से कालाधन वापस लाने और हर किसी के खाते में 15 लाख रुपए जमा कराने के वादे पर पूछा- मेरे खाते में 15 लाख कब आ रहे हैं? पाठक इस पर मौन रह गए। वह इसके अलावा वहां यूपीसीसी अध्यक्ष राज बब्बर से भी मिले। उन्होंने बताया, “कांग्रेस में आने पर मेरे सामने कुछ ऐसे ही सवाल दागे गए। पर मैं 2019 के चुनावों में बीजेपी के खिलाफ कैंपेनिंग करूंगा।पाठक मूलरूप से सहारनपुर के रहने वाले हैं। 2015 में दिल्ली चुनावों के दौरान और 2017 में उत्तर प्रदेश के चुनावों के समय वह पीएम की रैलियों के दौरान वह आकर्षण का केंद्र रहे थे। सबसे खास बात है कि वह इससे पहले 1999 में लोकसभा चुनाव और 2012 में विधानसभा चुनाव भी लड़ चुके हैं। वह इसके अलावा सहारनपुर से दो बार पार्षद भी रहे हैं।अंग्रेजी अखबार को उन्होंने आगे बताया, “मैं सच्चे दिल से पीएम मोदी को मानता हूं। वह मुझसे मिले भी हैं। पर उनकी सरकार अपने वादे पूरे करने में नाकाम रही है। ऐसे में मैंने उनके खिलाफ प्रचार करने की ठानी। मैंने इस संबंध में राहुल गांधी संग बैठक के लिए बब्बर साहब से कहा, ताकि मैं उन तक अपनी बात पहुंचा सकूं।यह पूछे जाने पर कि बीजेपी से आपका विश्वास कैसे उठ गया? वह बोले- जनता ने अच्छे दिनों के लिए मोदी जी को चुना था। पर पिछले सालों में स्थिति बदहाल हो गई। उनके मुताबिक, बीजेपी की नाकामी के कारण लोग उन्हें भी ताने मारते थे। बकौल पाठक, “लोग मुझे श्राप देते और उल्टा-पुल्टा कहते हैं। इस लिए मैने मोदी के खिलाफ प्रचार करने को उतरूंगा।

No comments:

Post a Comment