Wednesday, October 17, 2018

मर्डर के केस में रामपाल को मिली उम्र कैद

हिसार। हिसार कोर्ट ने हत्या के मामले में संत रामपाल को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। रामपाल को 4 महिलाओं और एक बच्चे की हत्या के मामले में सजा सुनाई गयी है। बता दें कि इसके पहले हिसार कोर्ट ने रामपाल को दोनों ही मामलों में दोषी करार दिया था।सेशन कोर्ट ने 11 अक्टूबर फैसला सुनाते हुए हिसार कोर्ट ने रामपाल को दोनों मामले में दोषी करार दिया। सजा के ऐलान को देखते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गई है और इलाके में धारा 144 लगाई गई है। इसके साथ ही सभी सीमाएं सील कर दई गई हैं। खबरों की माने तो सुनवाई के दौरान कोर्ट से तीन किलोमीटर का सुरक्षा घेरा बनाया गया है। 67 वर्षीय रामपाल और उसके अनुयायी नवम्बर, 2014 में गिरफ्तारी के बाद से जेल में बंद थे।बता दें कि इससे पहले, हिसार अदालत ने अगस्त 2017 में रामपाल को लोगों को बंधक बनाने, गैरकानूनी ढंग से इकट्ठा होने, लोकसेवक के आदेश की अवहेलना करने के दो मामलों में बरी कर दिया था। लेकिन अदालत आज हत्या की साजिश रचने, देशद्रोह व दंगा भडक़ाने के मामले में दोषी करार दिया था।
यह मामला 14 नवंबर साल 2014 का है। जब सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने संत रामपाल को पेश होने को कहा था। लेकिन वे नहीं आए। जिसके बाद पुलिस प्रशासन ने सतलोक आश्रम से रामपाल को निकालने के लिए ऑपरेशन चलाया। इस दौरान सतलोक आश्रम में हिंसा हुई थी। हिंसा में 6 महिलाओं और एक बच्चे की मौत हो गई थी। रामपाल पर अभी 3 केस चल रहे हैं, इसमें दो केस हत्या के और एक केस देशद्रोह का भी है।

No comments:

Post a Comment