Saturday, October 6, 2018

जिला स्तरीय पीस कमेटी की बैठक में डीएम और एसपी ने प्रशाशन को चेताया

गोन्डा ब्यूरो पवन कुमार द्विवेदी      त्योहारों के शांतिपूर्ण तरीके से निपटे प्रशासन की रहेगी पैनी नजर
जिला स्तरीय पीस कमेटी की बैठक में डीएम व एसपी ने सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास करने वालों की दी चेतावनी बताते चले कि आगामी दुर्गा पूजा और दशहरा के त्योहारों को शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए जिला पंचायत सभागार में आज जिलाधिकारी कैप्टन प्रभांशु श्रीवास्तव की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक सम्पन्न की गई, जिसमें विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई।
इस मौके पर जिलाधिकारी ने कहा कि त्योहारों का मतलब हर्ष और उल्लास से है। हमें गर्व है कि बीते एक दशक में पहली बार हादसा मुक्त त्यौहार सम्पन्न हो रहे हैं। इसका श्रेय आप सभी को जाता है। उन्होंने कहा कि बैठक में मिले सुझावों पर अमल किया जाएगा। उन्होंने अपील किया कि प्रतिबंधित प्लास्टिक की सामग्री किसी भी दशा में नहीं दुर्गा पांडालों पर नहीं मिलना चाहिए। प्रशासन यथासम्भव सहयोग करेगा किन्तु साफ सफाई की थोड़ी जिम्मेदारी खुद को भी उठानी होगी। धार्मिक कार्यों में अति न करें। विसर्जन के दौरान जोश न खोएं। उसे ठंडा रखें। उन्होंने कहा कि किसी को किसी प्रकार की अराजकता की छूट नहीं दी जाएगी। मूर्ति विसर्जन के दौरान रास्ते मे पड़ने वाले किसी भी मस्जिद के 10 मीटर पहले से 10 मीटर बाद तक जुलूस नहीं रुक सकेगा। पूजा पाठ के दौरान कोई बीभत्स दृश्य न उपस्थित हो। हिंदी फिल्मों के तर्ज पर बजने वाले भजनों से बचा जाय। उन्होंने प्रशासन की तरफ से हर सम्भव सहयोग उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया।
पुलिस अधीक्षक लल्लन सिंह ने सभी को आश्वस्त किया कि पुलिस की तरफ से पूरा सुरक्षा प्रबंध रहेगा। हमने जिले के सभी थानों में मूर्तियों के रखने का स्थान, विसर्जन मार्ग आदि का निरीक्षण हो चुका है। जिले में 1300 से अधिक दुर्गा प्रतिमाएं स्थापित होंगी तथा 19 और 20 तारीख को विसर्जन होगा। सभी मूर्तियों पर सुरक्षा लगा पाना सम्भव नहीं। गांव के 10 सम्भ्रांत व्यक्तियों को चिन्हित करके उन्हें सुरक्षा की जिम्मेदारी दी जाएगी। प्रमुख स्थलों पर पुलिस बल तैनात रहेगा। घारीघाट थाना क्षेत्र में समय से विसर्जन के लिए बस्ती जिले के एसपी से सम्पर्क किया जायेगा। एसपी ने सुझाव दिया कि विलम्बतम तीन बजे तक प्रतिमाएं उठ जाएं जिससे सूर्यास्त से पहले विसर्जन हो जाय। आवश्यक्तानुसार भारी वाहनों का आवागमन भी प्रतिबंधित किया जाएगा। उन्होंने सभी से सहयोग की अपेक्षा की। उन्होंने पूर्व के त्योहारों में जनता से मिले सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया।
पूर्व विधायक तुलसीदास राय चंदानी और केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति के राकेश वर्मा गुड्डू ने विस्तार से प्रशासन के समक्ष अपनी बात रखी। भाजपा नेता दीपक अग्रवाल ने सुझाव दिया कि नवरात्रि में खैरा और काली भवानी मन्दिरों पर टैंकर की व्यवस्था कराई जाय। उन्होंने 15 से 18 अक्टूबर के मध्य शाम 5 बजे से रात 12 बजे तक बलरामपुर मार्ग के वाहनों को सेमरा चौकी से आगे शहर में आने से रोका जाय। नूरामल मन्दिर के प्रबंधक सन्तोष ने सड़क पर वाहनों के आवागमन की स्थिति ठीक करने की मांग की। मोहर्रम कमेटी के शौकत कादरी ने आगामी त्योहारों को सकुशल सम्पन्न कराने में प्रशसन को हर सम्भव सहायता देने का आश्वासन दिया। संदीप मेहरोत्रा ने इस मौके पर कहा कि आगामी त्यौहार को निर्विघ्न सम्पन्न कराने की जिम्मेदारी हम सबकी है। पत्रकार अंकुर गर्ग ने दुर्गा प्रतिमाओं के उठाये जाने और उनके विसर्जन का समय निर्धारित किये जाने का सुझाव दिया। राजेश श्रीवास्तव ने सभी से भाई चारा के साथ रहने की अपील करते हुए मन्दिरों की सुरक्षा और साफ सफाई पर बल दिया। इस मौके पर जिले के सभी थाना प्रभारी, व्यापारी नेता रंगेश अग्रवाल, भूपेंद्र आर्य, जगदीश रायतानी, नगर पालिका पंचायतों के अधिशासी अधिकारी गण, क्षेत्राधिकारी सदर जटा शंकर राव, एसडीएम सदर एसएन त्रिपाठी, नगर मजिस्ट्रेट सुभाष चंद्र प्रजापति, अपर पुलिस अधीक्षक हृदेश कुमार आदि उपस्थित रहे। संचालन एलबीएस कालेज के प्राध्यापक डॉ आरबी सिंह बघेल ने किया।

No comments:

Post a Comment