Saturday, October 27, 2018

नीर निर्मल परियोजना की एक दिवसीय कार्यशाला का डीएम ने किया सुभारम्भ

गोंडा ब्यूरो पवन कुमार द्विवेदी

नीर निर्मनीर निर्मल परियोजना के तहत पाइप्ड पेयजल योजना से आच्छादित जिले के 15 ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधान व पंचायत सचिवों की एक दिवसीय कार्यशाला  का आयोजन जिला पंचायत सभागार में किया गया। जिलाधिकारी कैप्टन प्रभान्शु श्रीवास्तव व सीडीओ अशोक कुमार ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यशाला का शुभारम्भ किया।
इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में ग्राम प्रधानों व सचिवों को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि अधिकार और कर्तव्य एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। हमें अपने अधिकारों के साथ-साथ अपने कर्तव्यों को भी समझना चाहिए और योजनाओं को धरातल पर लागू करने में अपना सहयोग प्रदान करना चाहिए। सरकार की योजनाओं व वस्तुओं को जब तक अपना समझकर कार्य नहीं करेगें तब तक कोई योजना वास्तव में फलीभूत हो ही नहीं सकती। उन्होने कहा कि पंचायतों के उन्नयन एवं सशक्तीकरण के लिए पेयजल योजना एक अति महत्वपूर्ण योजना है। ग्रामीण पेयजल आपूर्ति एवं स्वच्छता विषयक, नीर निर्मल परियोजना का प्रमेुख उद्देश्य ग्रामीण समुदाय को विकेन्द्रीकृत विधियोें के माध्यम से पाइप पेयजल प्रणाली द्वारा पेयजल आपूर्ति तथा पर्यावरणीय स्वच्छता सेवायें उपलब्ध कराना है। जिससे परियोजना द्वारा आच्छादित जनपद क्षेत्र में ग्रामीण जनमानस में गुणवत्तापूर्ण सुधार हो सके तथा जल जनित बीमारियों में कमी आने के साथ-साथ समुदाय का आर्थिक स्तर भी सुदृढ़ हो सके। सहभागिता के माध्यम से समुदाय को मूलभूत सुविधायें उपलब्ध करायी जा सकें। उन्होने ग्राम प्रधानों समेत समाज के समर्थ लोगों से अपील किया कि पाइप्ड पेयजल योजना से आच्छादित गांवों में जो गरीबी के कारण पाइप्ड पेयाजल योजना के लिए निर्धारित अंशदान नहीं कर पा रहे हैं, उनकी आर्थिक मदद कर अंशदान जमा करवाएं जिससे योजना जल्द से जल्द गांवों में चालू की जा सके। उन्होने ग्राम प्रधानों से यह भी कहा कि वे बिना किसी भेदभाव के गांव में योजनाआंें का लागू कराएं तथा सभी पात्र को योजना का लाभ देने का काम करें। इस अवरस पर सीडीओ अशोक कुमार ने ग्राम प्रधानों व सचिवों पेयजल योजना के महत्व व सुचारू रूप से क्रियान्वयन के टिप्स बताए तथा आचछदादित गांवों में इस योजना को जल्द से जल्द पूर्ण कराने क निर्देश दिए। सीडीओ ने बताया कि नीर निर्मल परियोजना के तहत प्रदेश के कुद हीजनपद आच्छादित किए गए हैं। इसलिए इससुनहरे अवसर का लाभ उठाया जाय और ज्यादासे लोगों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराया जाय। कार्यशाला में तरबगंज खानपुर के प्रधान को जिलाधिकारी द्वारा पेयजल परियोजना कोे सबसे पहले पूर्ण कराने पर सम्माानित किया गया।
कार्यशाला में सीएमओ डा0 संतोष श्रीवास्तव, डीडीओ रजत यादव, अधिशासी अभियन्ता जल निगम मुकीम अहमद, नीर निर्मल परियोजना के समन्वयक अरूण व सुमित, ग्राम प्रधान, एडीओ पंचायत तथा पंचायत सचिव मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment