Saturday, November 10, 2018

गोंडा में रेल राज्य मंत्री ने गोंडा बहराइच रूट के ट्रेन को दिखाई हरी झंडी

पवन कुमार द्धिवेदी
गोण्डा से बहराइच को जाने वाली रेलवे लाइन के गेज कन्वर्जन के बाद शुक्रवार को 60 किमी लंबे रेलवे ट्रैक पर ट्रेन को रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने हरी झंडी दिखाई। इसके साथ ही उन्होंने 5 हजार करोड़ की परियोजना के जल्द शुरू होने का भी ऐलान किया।
मंत्री श्री सिन्हा तीन जोड़ी डेमू ट्रेन का शुभारंभ किया। शुक्रवार से रोजाना ये ट्रेन गोंडा और बहराइच के बीच चलेंगी। रेल मंत्री ने कहा कि मौजूदा सरकार ने रेलवे बजट को तीन गुना किया है। जिससे खासकर पूर्वी उत्तर प्रदेश को काफी फायदा पहुंच रहा है। इस प्रदेश सरकार में मंत्री अनुपमा जायसवाल, गोण्डा सांसद कीर्तिवर्धन सिंह, कैसरगंज सांसद बृजभूषण शरण सिंह, बहराइच सांसद सावित्री बाई फुले, डुमरियागंज सांसद जगदंबिका पाल, विधायक प्रतीक भूषण सिंह, प्रभात कुमार वर्मा, प्रेम नरायन पाण्डेय, बावन सिंह, जिलाध्यक्ष पीयूष मिश्रा सहित तमाम भाजपा नेता रहे।
गोण्डा जंक्शन का नाम अटल के नाम हो - कैसरगंज सांसद ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सुशासन की याद में गोंडा जंक्शन का नाम भी बदलने की मांग की। उन्होंने कहा कि क्योंकि गोण्डा पूर्व प्रधानमंत्री की कर्म भूमि रही है तो उन्हें इससे अच्छी श्रद्धांजलि नहीं दी जा सकती है। रेल राज्य मंत्री ने इसे खारिज करते हुए कहा कि यह राज्य का मामला है ।वही मेमो ट्रैन की चर्चा पर उन्होंने कहा कि शीघ्र ही इसका संचालन किया जाएगा ।वही गोन्डा गोरखपुर वाया बढ़नी रुट पर सुबह ,दोपहर ,शाम को गोन्डा से ट्रेन चलाने की मांग हुई ।वही कुछ ट्रेनों के ठहराव पर मंत्री बोले कि इसके लिए रेलवे के अधिकारियो से बात की जाएगी उसके बाद ही कोई फैसला ले पाएंगे ।रेल राज्य मंत्री ने गोन्डा रेलवे स्टेशन को पूर्वोत्तर के महत्व पूर्ण स्टेशन इसके विकाश के लिए पूरा प्रयास किया जाएगा ।उन्होंने पूर्व की सरकार व वर्तमान की सरकार के कार्य मे अंतर बताया जो कार्य पुर्व की सरकार ने काफी समय लगाया वह कार्य हमारी सरकार ने 4 वर्षों में ही पूर्ण कर दिया है ।हमारी सरकार ने विकाश किया और बिकाश करने में विस्वास करते है ।वही राम मंदिर के सवाल पर कहा कि हमारी सरकार के एजेंडे में राम मंदिर नही था ।

No comments:

Post a Comment