Sunday, November 25, 2018

भीकम पुरवा के प्राथमिक विद्यालय की छात्रा ने गिनीज बुक में दर्ज कराया नाम

गोंडा ब्यूरो पवन कुमार द्विवेदी   
   गोंडा जनपद के इटियाथोक विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय भीकम पुरवा की कक्षा 3 की छात्रा अंशिका मिश्रा ने भारत के सभी जिलों के नाम को 7 मिनेट में बताकर अपना दावा प्रस्तुत किया इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवाने के लिए । उसी के प्रस्तुति के लिए जनपद के मुख्यालय पर स्थित जिला पंचायत सभागार में कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।जिसमें में लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड के प्रतिनिधि आनंद वेदांत की उपस्थिति में रिकॉर्ड दर्ज कराया गया जिसमें आंशिक ने 6 मिनट 26 सेकंड में बताकर अपना दावा प्रस्तुत किया ।इस बारे में आनंद वेदांत ने बताया कि इस रिकॉर्ड को कमेटी में रखा जाएगा उसके बाद यदि सही होगा तो दर्ज कर प्रमाण पत्र दिया  जाएगा ।इस अवसर पर मंडलायुक्त मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे ।
कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती जी माल्यार्पण के साथ हुआ ।उसके बाद सभी अतिथियों का माल्यार्पण किया गया ।उसके बाद जिला बेसिक शिक्षा विभाग अधिकारी की तरफ से छात्रा अंशिका व उस विद्यालय के प्रधानाध्यापक मनोज मिश्रा को समान्नित किया गया ।इस अवसर उत्तर प्रेदेसिये शिक्षक संघ की कमेटी द्वारा उपस्थित अतिथियों को प्रतीक चिन्ह देकर समान्नित किया ।वही जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने अपने संबोधित करते हुए कहा कि आज विभाग के लिए गौरव की बात है ,वही बेसिक शिक्षा के और स्कूल के टीचरो को इसी तरह कार्य करने के लिए प्रेरित किया ,
   अंशिका मिश्रा के इंडिया बुक में रिकॉर्ड में नाम दर्ज होने पर अंशिका सहित प्रधानाध्यापक मनोज मिश्र को भी सम्मानित किया गया ,इस कार्यक्रम के अवसर पर पूर्व विधायक नंदिता शुक्ला व वर्तमान विधायक मेहनो  न विनय कुमार द्विवेदी दोनो उपस्थित हुए तभी किसी ने वर्तमान विधायक को याद आया और वे तुरंत चले गए ,वही पूर्व विधायिका ने पूरा समय दिया ,अब इसे क्या कहे ,वही अंशिका को मैडल के साथ साथ उपस्थित लोगों ने इनामों व आर्शीवाद की झड़ी लगा दी ।वही बीएसए गोंडा ने विद्यालय को हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया वही और विद्यालय के शिक्षकों को शीख लेने की सलाह दी आप लोग भी इसी तरह आप लोग भी एक अंशिका तरासने का काम करे जिससे गोंडा का नाम रोशन हो सके,गोंडा की शिक्षा के मामले में काफी पिछड़ा हुआ ,इस दाग को धोने की जरूरत है ।वही पूर्व विधायिका ने अंशिका के साथ साथ स्कूल के अध्यापकों को भी धन्यवाद दिया जिनके वजह से मेहनोंन सहित पूरे जिले का नाम रोशन करवाया ।इस कार्यक्रम के आयोजन में मुख्य भूमिका उत्तरप्रदेशिये प्रथमिक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष सहित उनके कमेटी के सहयोगियो का भी है जिन्होंने अपने अथक प्रयास से यह मुकाम हासिल किया । इस बारे में मनोज मिश्र ने बताया कि यह बच्ची शुरू से ही प्रश्न पूछने की प्रवृति थी उसी को दृष्टिगत हम लोगो ने उन प्रश्नों का उत्तर देने का प्रयास किया है ।इस बच्ची ने उसी पर  मेहनत करके यह मुकाम हासिल किया ।मेरे विद्यालय में कुछ और प्रतिभाएं है उनको भी तरासने का कार्य किया जा रहा है ।भविष्य में एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवाने के प्रयास करना है ।इस कार्यक्रम में उपस्थित सभी  अथितियो ने अंशिका के उज्जवल भविष्य की कामना की

No comments:

Post a Comment