Friday, November 16, 2018

हरियाणा में प्राइवेट बसें ठेके पर लेने के खिलाफ संघर्ष जारी

हरियाणा रोडवेज कर्मचारी तालमेल कमेटी के वरिष्ठ नेता इन्द्र सिंह बधाना, वीरेंद्र सिंह धनखड़, सरबत सिंह पूनिया,हरि नारायण शर्मा, दलबीर किरमारा, अनूप सहरावत,जय भगवान कादियान, बाबूलाल यादव, पहल सिंह तंवर, बलवान सिंह दोदूवा, आजाद गिल, सुल्तान सिंह,नसीब जाखड़ ने बताया परिवहन विभाग ने आज यात्रियों को परेशानी पैदा करने के लिए रोडवेज कर्मचारियों का ओवरटाइम समाप्त करने का तुगलकी फरमान जारी किया है। कर्मचारी नेताओं ने कहा विभाग में बसों व स्टाफ का भारी टोटा है, इसलिए रोड़वेज कर्मचारी 12 से 18 घंटे ड्यूटी करके यात्रियों को अपने गंतव्य स्थान पर पहुंचाते हैं। परन्तु सरकार ने विभाग में कर्मचारियों की भर्ती किये बिना ही कर्मचारियों से आठ घण्टे (सप्ताह में 48 घंटे) की ड्यूटी लेने व ओवरटाइम समाप्त करने का पत्र जारी करके यात्रियों व छात्र-छात्राओं के लिए भारी परेशानी खड़ी कर दी है। उन्होंने कहा ओवरटाइम समाप्त करने के लिए वर्तमान बसों को चलाने के लिए कम से कम 18 हजार चालक-परिचालकों की भर्ती करना जरूरी है। सरकार द्वारा विभाग में सरकारी बसें शामिल करने व स्थाई भर्ती करने की बजाय ओवरटाइम समाप्त करने का पत्र जारी करना केवल मात्र 700 प्राइवेट बसें ठेके पर लेने के खिलाफ रोड़वेज कर्मचारियों द्वारा चलाए जा रहे आन्दोलन से ध्यान हटाने का एक मात्र मकसद है। तालमेल कमेटी नेताओं ने कहा  700 प्राइवेट बसें ठेके पर लेने के खिलाफ रोड़वेज कर्मचारी आन्दोलन जारी रखेंगे।                                  उन्होंने जोर देकर कहा सरकार की नियत जनता को बेहतर व सुरक्षित परिवहन सेवा देने की है तो 700 प्राइवेट बसें ठेके पर लेने का इरादा छोड़ कर विभाग में 14 हजार सरकारी बसें शामिल की जाएं ताकि 84 हजार बेरोजगारों को स्थाई रोजगार मिल सके। कर्मचारी नेताओं ने कहा प्राइवेट बसें ठेके पर लेना किसी भी सूरत में जनहित व विभाग हित में नहीं है, इसलिए रोड़वेज कर्मचारी 29 नवम्बर को माननीय उच्च न्यायालय में पक्ष रखने के साथ मैदान में संघर्ष जारी रखेंगे एवं प्रदेश की जनता को अवगत कराया जाएगा।                                                           जारीकर्ता                                                                       सरबत सिंह पूनिया                                                           सदस्य हरियाणा रोडवेज कर्मचारी तालमेल कमेटी

No comments:

Post a Comment